नई दिल्ली, [ संजीव गुप्ता]। दिल्ली सरकार का मोहल्ला क्लीनिक अब दुनिया के मेले में भी दर्शकों को आकर्षित कर रहा है। इसके जरिये लोग न सिर्फ स्वास्थ्य जांच करा रहे हैं बल्कि जरूरत के मुताबिक दवाएं भी पा रहे हैं। विभिन्न क्षेत्रों में कराए गए सरकार के सुधार कार्यो में भी दर्शकों का रुझान नजर आता है। स्कूली बच्चों का नुक्कड़ नाटक और उनके बनाए मॉडल भी दर्शकों को रुकने के लिए मजबूर कर देते हैं। दरअसल, मेले के अंतर्गत हॉल नं. 12 ए में बने दिल्ली मंडप को आप सरकार की उपलब्धियां प्रदर्शित करने की सोच के साथ डिजाइन किया गया है। मंडप का आकार तो छोटा है, लेकिन रचनात्मकता और कलात्मकता के साथ गागर में सागर की तरह सब कुछ समेट लिया गया है। दिल्ली मंडप में स्टॉल भी मुख्य रूप से तीन ही हैं। पहले स्टॉल में मोहल्ला क्लीनिक खोला गया है। यहां डॉक्टरों की एक टीम दर्शकों की स्वास्थ्य जांच कर रही है और जरूरत के मुताबिक उन्हें दवाएं भी दे रही है।

दूसरा स्टॉल शिक्षा निदेशालय का है। यहां दिल्ली सरकार द्वारा शैक्षिक क्षेत्र में किए गए सुधारों की झलक देखने को मिलती है। इस स्टॉल पर सरकारी स्कूलों के कुछ बच्चे अपने बनाए मॉडल के बारे में भी उपयोगी जानकारी देते नजर आते हैं। इसी स्टॉल के आगे सरकारी स्कूलों के बच्चों का समूह सामाजिक विषयों पर संदेश देने वाले नुक्कड़ नाटक करता है, जो दर्शकों को सहसा रुकने पर विवश कर देता है।

मंडप का तीसरा प्रमुख स्टॉल तिहाड़ जेल के कैदियों द्वारा बनाए गए उत्पादों का है, जहां उनके हाथों के स्वाद का जायका लिया जा सकता है। दिल्ली मंडप का प्रमुख आकर्षण है दो एलईडी दीवारों के बीच बना वह डिजाइनर वृक्ष, जिसकी हर शाखा पर आप सरकार की विभिन्न उपलब्धियां प्रदर्शित हैं। इनमें सीसीटीवी कैमरे लगाने, महिलाओं की मुफ्त बस यात्र, सस्ती बिजली, 25 फीसद प्रदूषण कम होने इत्यादि सुधारों को प्रदर्शित किया गया है। एक एलईडी पैनल पर मंडप में हर समय दिल्ली सरकार की उपलब्धियों का ऑडियो-विजुअल चलता रहता है।

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप