नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। मालवीय नगर स्थित बाल संरक्षण गृह में रहने वाले एक नाबालिग के साथ कुकर्म का मामला सामने आया है। संरक्षण गृह प्रशासन की ओर से मामले की शिकायत पुलिस को दी गई है। जिसके बाद मामले में पुलिस ने नाबालिग का मेडिकल कराने के बाद उसके बयान पर आइपीसी की धारा 377 और पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

रात को किया था दुष्कर्म ?

पुलिस अधिकारी ने बताया कि 11 वर्षीय नाबालिग पिछले 2 साल से मालवीय नगर स्थित बाल संरक्षण गृह में रह रहा है। पीड़ित आरके पुरम स्थित एक स्कूल में कक्षा छह का छात्र है। पीड़ित ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि 28 नवंबर रात को वह खाना खाने के बाद अपने बिस्तर पर सोने चला गया था। कुछ देर बाद वहां रहने वाला एक शख्स बिस्तर पर आया और बच्चे के साथ कुकर्म किया।

शोर मचाने पर आरोपित ने किया मुंह बंद

पीड़ित ने बताया कि उसने आरोपित का विरोध किया और शोर मचाया और आरोपित ने उसका मुंह बंद कर दिया और उसकी पिटाई भी की। वारदात के बाद आरोपित पीड़ित के ही बिस्तर पर सोने लगा तो पीड़ित शोर मचाने लगा। जिसके बाद आरोपित धमकी देते हुए वहां से अपने बिस्तर पर चला गया।

पुलिस ने मेडिकल कराकर किया मामला दर्ज

इसके बाद पीड़ित ने अगले दिन आपबीती संरक्षण गृह में मौजूद एक शख्स को बताई। इसके बाद बृहस्पतिवार को संरक्षण गृह के संस्थापक और केयर टेकर पीड़ित को लेकर मालवीय नगर थाने पहुंचे। जहां पीड़ित ने आपबीती पुलिस को बताई। पुलिस ने पीड़ित का मेडिकल करा कर मामला दर्ज कर लिया।

यह भी पढ़ें- Rajouri में मासूम बच्ची से दरिंदगी करने वाला आरोपित गिरफ्तार, POCSO एक्ट के तहत मामला हुआ दर्ज

यह भी पढ़ें- Ghaziabad Crime: 5 साल की बच्ची से दरिंदगी मामले में बड़ा खुलासा, परिवार के परिचित पर है शक की सुई

Edited By: Abhi Malviya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट