पश्चिमी दिल्ली, जागरण संवाददाता। बाहरी जिला पुलिस ने हथियार तस्करों के अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश करते हुए इसके चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से पुलिस ने सात पिस्टल व 18 कारतूस बरामद किए हैं।

तीन आरोपितों को पुलिस ने पकड़ा

बाहरी जिला पुलिस उपायुक्त हरेंद्र के सिंह ने बताया कि सूचना मिली थी कि तस्करी करने वाले दो बदमाश अवैध हथियार बेचने पश्चिम विहार स्थित दशहरा ग्राउंड आने वाले हैं। इसके बाद एसीपी अरुण कुमार चौधरी की देखरेख में टीम बनाई गई। टीम ने दशहरा ग्राउंड की घेराबंदी कर संदिग्ध गतिविधि के आधार पर तीन आरोपिताें को पकड़ा।

पुलिस ने शुरू की छानबीन

पूछताछ में इन्होंने अपने नाम शाहरुख, मुजाहिद व सुमित बताए। तलाशी के दौरान पुलिस शाहरूख के पास से दो व सुमित के पास से एक पिस्टल मिले। पश्चिम विहार वेस्ट थाना में आर्म्स एक्ट के तहत प्राथमिकी कर पुलिस ने छानबीन शुरू की।

पूछताछ में तीनों से पता चला कि शाहरुख व मुजाहिद हथियार तस्कर हैं और ये उत्तर प्रदेश से सुमित को हथियार बेचने पहुंचे थे। दोनों ने पुलिस को बताया कि इन्हें मौसीन नामक शख्स अवैध हथियार मुहैया कराता था। इस जानकारी के आधार पर मौसीन को भी दबोच लिया गया। मौसीन के पास चार पिस्टल बरामद हुए।

बुलंदशहर व मेरठ से हथियार की होती थी खरीद 

पूछताछ में आरोपितों से पुलिस को पता चला कि शाहरुख व मुजाहिद बुलंदशहर व मेरठ के विभिन्न इलाकों से अवैध हथियार कम कीमत पर खरीदते थे। सुमित दिल्ली में इनका एजेंट था। सुमित के माध्यम से दिल्ली में हथियार की बिक्री होती थी।

यह भी पढ़ें- 

Delhi Crime: कूड़े के ढेर में नवजात बच्चे का शव मिलने से इलाके में मचा हड़कंप, मामले की जांच में जुटी पुलिस

Edited By: Shyamji Tiwari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट