नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। फर्जी पास के जरिये संसद भवन के अंदर प्रवेश करने के मामले में बिहार सरकार में खनन मंत्री के निजी सचिव समेत दो लोगों को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपित बबलू कुमार आर्य बिहार सरकार के खनन एवं भूतत्व मंत्री जनक राम के निजी सचिव है जबकि एक साइबर कैफे संचालक महेश कुमार हैं। पुलिस उपायुक्त (अपराध) मोनिका भारद्वाज के मुताबिक, एक सप्ताह पूर्व संसद भवन में एक व्यक्ति प्रवेश कर रहा था।

जिससे रोककर पुलिस ने संसद भवन में प्रवेश के लिए जारी पास की जांच किया। जांच में संसद भवन में प्रवेश के लिए जारी पास फर्जी पाए जाने पर उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया था। पूछताछ में पता चला कि 18 जून 2021 को कथित पास ज्योति भूषण कुमार भारती को 18 जून 2019 से 31 दिसंबर 2019 की अवधि के लिए जारी किया गया था। जुलाई 2019 में बबलू कुमार आर्य ने बिना उनकी जानकारी के बिहार के गोपालगंज स्थित अपने घर से ज्योति भूषण कुमार भारती की जेब से मूल पास ले लिया था।

उन्होंने गोपालगंज बिहार के एक साइबर कैफे संचालक महेश कुमार की मदद से फर्जी पास तैयार किया था। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए एसीपी मयंक बंसल के देखरेख में इंस्पेक्टर पंकज मलिक के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया। टीम गोपालगंज जाकर दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधिकारियों को कहना है कि इस मामले अन्य आरोपितों की भी गिरफ्तारी होगी।

Edited By: Pradeep Chauhan