नई दिल्ली [मनीषा गर्ग]। दक्षिण-पश्चिमी जिला प्रशासन के द्वारका सब-डिवीजन ने कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार के नाम पर मनमानी रकम वसूलने की शिकायत पर एक निजी अस्पताल के खिलाफ कार्रवाई की है। मामले में प्रशासन की तरफ से फिलहाल अस्पताल को एक नोटिस जारी किया गया है कि वह जल्द से जल्द उन सभी मरीजों के रुपये लौटाए जिनसे तय दर से अधिक बिल वसूला गया है।

महामारी अधिनियम के तहत होगी कार्रवा

हालांकि, प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत शिकायत दी जाएगी और साथ ही अस्पताल के खिलाफ जुर्माना भी किया जाएगा। सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर सोमवार दोपहर प्रशासनिक अधिकारियों की टीम ने उपायुक्त डा. नवीन अग्रवाल के नेतृत्व व एसडीम द्वारका पंकज राय गुप्ता के दिशानिर्देश में विकास नगर स्थित आशीर्वाद नर्सिंग होम पर छापेमारी की।

निर्धारित दर से अधिक बिल मरीजों से वसूल का आरोप

टीम में तहसीलदार भूप सिंह, नोडल आफिसर डाॅ. स्वर्णकार व सिविल डिफेंस वालेंटियर शामिल थे। टीम ने पाया कि अस्पताल प्रबंधन मरीजों से सरकार द्वारा निर्धारित दर से अधिक बिल मरीजों से वसूल रहा है। डाॅ. नवीन अग्रवाल ने बताया कि कोई भी अस्पताल प्रबंधन संक्रमित मरीज से तय दर से अधिक वसूलता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। बता दें कि दिल्ली में कोरोना का संक्रमण काफी तेजी से बढ़ रहा है। सरकार इसे रोकने के लिए लॉकडाउन लगा चुकी है। इधर हर दिन केस बढ़ने के कारण काफी ज्यादा लोग अस्पताल पहुंच रहे हैं। इसके कारण अस्पताल में बेड और अन्य सुविधाएं कम पड़ने लगी है जिसके कारण कुछ अस्पताल मरीजों से ज्यादा-से-ज्यादा चार्ज वसूल रहे हैं। इसकी शिकायत रह रह कर सरकार तक पहुंच रही है। इधर एंबुलेंस वालों की भी लगातार शिकायत मिल रही है कि वह जरूरत से ज्यादा चार्ज वसूल रहे हैं। हालांकि सरकार इस पर नियंत्रण लगाने की बात कह रही है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021