नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली विधानसभा में पहले दिन रामजस कॉलेज में हुई हिंसा की गूंज सुनाई दी। पर्यटन मंत्री कपिल मिश्र ने रामजस हिंसा के मुद्दे पर संघ को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि शहीद की बेटी की देशभक्ति पर सवाल उठाने वाले लोगों पर भी सवाल उठने चाहिए।

उपराज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के लिए प्रस्ताव रखते हुए केंद्र पर भी निशाना साधा। उन्होंने इसके लिए नरेंद्र मोदी के श्मशान और कब्रिस्तान वाली टिप्पणी से जोड़कर यह मुद्दा उठाया।

कपिल मिश्र ने विकास के इस मॉडल की तुलना आप सरकार के शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में किए गए काम से करते हुए हुए कहा कि उनकी सरकार का ध्यान यह सुनिश्चित करने पर था कि लोगों को अंतिम संस्कार के लिए श्मशान ले जाने की जरूरत ही न पड़े।

उन्होंने कहा कि कई लोग रामराज्य की बात करते हैं, लेकिन असलियत में यह दिल्ली में आया। कपिल ने उपराज्यपाल की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि कैसे हाल ही में मोहल्ला क्लीनिकों और न्यूनतम मजदूरी के लंबित प्रस्तावों को पास किया गया।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस