नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली सरकार ने सोमवार को 2020-21 के लिए अपना 65000 करोड़ का बजट पेश किया। इस बजट में कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए सरकार ने 50 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। जानकारी के अनुसार, कोरोना से निपटने के लिए इस साल के लिए सरकार ने तीन करोड़ की राशि दी है। जबकि अगले वित्त वर्ष के लिए कुल 50 करोड़ की व्यवस्था की गई है।

इसके अलावा केजरीवाल सरकार ने नए अस्पतालों के लिए 724 करोड़ और 365 करोड़ रुपये मोहल्ला क्लीनिक के लिए दिए हैं। बता दें कि कोरोना के खतरे को देखते हुए दिल्ली को लॉकडाउन कर दिया गया है। मेट्रो और परिवहन सेवाएं भी बंद हैं। 

दिलशाद गार्डन की महिला का इलाज करने वाले डॉक्टर भी पीड़ित

राजधानी में रविवार को कोरोना के तीन नए मामलों की पुष्टि हुई है। इन पीड़ितों में एक डॉक्टर भी शामिल हैं जिन्होंने दिलशाद गार्डन की कोरोना से पीड़ित महिला का इलाज किया था। शुरुआत में तबीयत खराब होने पर इन्हीं डॉक्टर की क्लीनिक पर महिला इलाज कराने के लिए गई थी। पीड़ित डॉक्टर को इलाज के लिए जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह दिल्ली में किसी डॉक्टर के कोरोना से पीड़ित होने का पहला मामला है। दो अन्य मरीज घिटोरनी व उत्तरी दिल्ली के राणा प्रताप बाग के रहने वाले हैं।

ये भी पढ़ेंः Coronavirus: दिल्ली-NCR के कुल 55 सीएनजी स्टेशनों पर ही होगी CNG भरवाने की सुविधा

Coronavirus: कैदियों को स्पेशल पैरोल व फर्लो पर छोड़ सकती है दिल्ली सरकार

इसी के साथ ही दिल्ली में कोरोना पीड़ितों की संख्या 30 पहुंच गई। इनमें से पांच स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि जनकपुरी की बुजुर्ग महिला की मौत हो गई थी। उनके बेटे ठीक हो गए हैं और सफदरजंग अस्पताल से वापस घर आ गए हैं। पीड़ित मरीजों में 23 लोग विदेश से लौटे हैं, जबकि 7 मरीज कोरोना पीड़ितों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। सबसे ज्यादा पांच लोग दिलशाद गार्डन की रहने वाली 38 वर्षीय पीड़ित महिला के संपर्क में आने से कोरोना पीड़ित हुए हैं। इनमें महिला की दो बेटियां, मां व भाई शामिल हैं।

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस