नई दिल्ली, एएनआइ/ जागरण संवाददाता। दिल्ली-एनसीआर के लोगों को बृहस्पतिवार को भी प्रदूषण के राहत नहीं मिली। लोगों को 15 नवंबर राहत मिलने की उम्मीद भी नजर नहीं आ रही है। एयर क्वालिटी इंडेक्स (Air Quality Index) डाटा के अनुसार,दिल्ली के लोधी रोड इलाके में सुबह पीएम 2.5 और पीएम 10 का स्तर 500 दर्ज किया गया। जबकि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (Central Pollution Control Board) के मुताबिक आरटीओ इलाके में हवा की गुणवत्ता 474 स्तर का मापा गया।

प्रदूषण का स्तर दिल्ली में इतना बढ़ गया है कि सुबह दिल्ली के कई इलाकों में स्मॉग ही स्मॉग नजर आया। अक्षरधाम इलाके में स्मॉग की वजह से दृष्यता काफी कम आंकी गई।

बुधवार को 42 अंकों की बढ़ोतरी

एनसीआर की हवा में प्रदूषण का जहर बुधवार को और बढ़ गया। मंगलवार को  दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स 425 यानी गंभीर श्रेणी में था। बुधवार को इसमें 42 अंकों की बढ़ोतरी हुई  और यह आपात स्थिति में पहुंच गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक बुधवार को देश का सबसे प्रदूषित शहर गाजियाबाद रहा, जहां एयर इंडेक्स 483 रहा। दिल्ली का एयर इंडेक्स 467 रहा। शाम के छह बजे पीएम 10 की मात्र 500 और पीएम 2.5 कणों की मात्र 344 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रहा।

मानकों के अनुसार पीएम 10 की मात्र 100 व पीएम 2.5 की मात्र 60 से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। इस हिसाब से देखा जाए तो दिल्ली की हवा में पांच गुना ज्यादा प्रदूषण का जहर घुला हुआ है।

हवा में कई तरह की गैस आपस में रिएक्शन कर सेकेंड्री पार्टिकल बना रही

सीपीसीबी व पृथ्वी विज्ञान मंत्रलय की वायु गुणवत्ता निगरानी संस्था सफर के अनुसार हवा में कई तरह की गैस आपस में रिएक्शन कर सेकेंड्री पार्टिकल बना रही हैं। इस कारण भी लोगों को काफी ज्यादा परेशानी महसूस हो रही है। 15 नवंबर तक तो एनसीआर के शहर इसी तरह घुटते रहेंगे। सीपीसीबी की टास्क फोर्स ने बुधवार शाम स्थिति की समीक्षा की। इसमें विशेष रूप से पीएम 2.5 के लगातार 300 से ऊपर रहने पर चिंता जाहिर की गई।

दो दिन के लिए स्कूल बंद

वायु प्रदूषण की खतरनाक स्थिति को देखते हुए दिल्ली-एनसीआर के सभी स्कूल 15 नवंबर तक बंद रहेंगे।

ईपीसीए के अध्यक्ष डॉ. भूरेलाल ने दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव विजय देव को पत्र लिखकर स्कूलों को दो दिन (14 व 15 नवंबर) बंद रखने को कहा है। देर शाम उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया,‘दिल्ली सरकार ने सभी स्कूलों को गुरुवार, शुक्रवार को बंद रखने का फैसला लिया है।’ गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, पानीपत व झज्जर के स्कूलों को भी दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया है। 

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस