नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाके में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की सरकारी कार का पीछा करने के मामले में अब दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी ट्वीट किया है।

अपने ट्वीट में स्वाति मालीवाल ने कहा है कि स्मृति ईरानी ने पीछा कर रहे आदमियों के खिलाफ करवाई  करवाई। इससे दूसरों को भी रिपोर्ट करने की हिम्मत मिलेगी। दिल्ली में महिला सुरक्षा को लेकर केंद्र-राज्य के साथ काम करने की जरूरत है। 

गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का कार से दिल्ली विश्वविद्यालय के चार छात्रों ने पीछे किया था। इस दौरान छात्रों ने भद्दे कमेंट किए थे। वहीं, केंद्रीय मंत्री की पहल पर सक्रियता दिखाते हुए पुलिस ने जिन 4 युवकों को गिरफ्तार किया था, उन्हें जमानत मिल गई है।

यह भी पढ़ेंः 4 छात्रों ने DU को किया शर्मसार, नशे में कर रहे थे स्मृति ईरानी का पीछा

घटना शनिवार शाम करीब साढ़े पांच बजे की है। युवक कार से स्मृति ईरानी की सरकारी कार का पीछा कर रहे थे। स्मृति ईरानी की सरकारी कार ने खुद उस कार को रोका और 100 नंबर पर कॉल किया। चारों आरोपी छात्र डीयू के मोतीलाल नेहरू कॉलेज के BSC के छात्र हैं। इनकी पहचान कुणाल, अभिमन्यु, सितांशु और अनंत के रूप में हुई है। जिस कार से चारों आरोपी केंद्रीय मंत्री की गाड़ी का पीछा कर रहे थे, वह सितांशु के पिता की टैक्‍सी नंबर की कार थी।

सभी छात्र दिल्ली के वसंत गांव में किराए पर रहते हैं। बताया जा रहा है कि जब इन लोगों ने यह हरकत की, उस वक्‍त ये एक जन्मदिन की पार्टी मनाकर शराब के नशे मे चूर होकर अपने रूम पर वापस जा रहे थे।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ईरानी जब एयरपोर्ट से अपने आवास की तरफ जा रही थीं तो उन्होंने महसूस किया कि एक कार उनका पीछा कर रही है। मंत्री ईरानी ने साहस दिखाते हुए उन लड़कों की कार का पीछा करना शुरू कर दिया। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस