नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री इमरान हुसैन के निर्देश पर लीगल मेट्रोलॉजी विभाग ने पैक्ड समान की कीमतों में हेरफेर करने और ओवरचार्जिंग पर तीन दुकानदारों और निर्माता कंपनियों पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। मंत्री ने आवश्यक वस्तुओं की एमआरपी से अधिक कीमत पर बिक्री को रोकने के लिए लीगल मेट्रोलॉजी विभाग के अधिकारियों को समीक्षा बैठक में कार्रवाई के आदेश दिए थे।

मंत्री ने बताया कि कोरोना वायरस से उत्पन्न स्थिति में कुछ डीलरों, खुदरा विक्रेताओं, निर्माताओं द्वारा आवश्यक वस्तुओं के अधिक दाम वसूलने की शिकायत मिली थी। इसके बाद खुदरा विक्रेताओं, केमिस्टों, निर्माताओं, व्यापारियों आदि द्वारा पैकेज्ड कमोडिटी रूल्स (पीसीआर) के उल्लंघन के मामलों की जांच के लिए टीमों को तैनात किया गया है। जांच में रूप नगर इलाके में दिल्ली मिल्क स्कीम स्टॉल चलाने वाले एक खुदरा विक्रेता द्वारा पीसीआर के उल्लंघन का मामला सामने आया। यहां एमआरपी के साथ छेड़छाड़ कर मूल्य वृद्धि की गई थी। इसके अलावा दो अन्य दुकानदारों के यहां भी इसी तरह की अनियमितता मिली। इस पर हेरफेर करने वाले खुदरा दुकानदारों के साथ ही तीन उत्पादन कंपनियों पर कुल एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया।

आवश्‍यक सामान की सप्‍लाई से जुड़े लोगों को दिल्‍ली पुलिस ने दी सुविधा

दिल्ली पुलिस ने लॉकडाउन के चलते आवश्यक सामान से जुड़े लोगों को पास की सुविधा दी है। पुलिस राशन की परेशानी ना हो इसके लिए लगातार काम कर रही है। अब दिल्ली पुलिस ने सामान की सप्लाई करने से जुड़े लोगों को पास की सुविधा दी है ताकि उन्हें आने जाने में दिक्कत ना हो। इस पास के लिए ये लोग ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं। दिल्ली पुलिस ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। इसमें दिल्ली पुलिस ने अपनी ऑफिशियल वेबसाइट के बारे में बताते हुए कहा है कि पास के लिए लोग यहां अप्लाई कर सकेत हैं।

Posted By: Neel Rajput

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस