नई दिल्ली [राहुल सिंह]। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात को तीन सप्ताह के पूरी तरह लॉक डाउन और उससे पहले दिल्ली सरकार द्वारा की गई लॉक डाउन की घोषणा के बाद इन दिनों अधिकतर लोगों को घरों में ही रहना है। ऐसे में कामकाजी व्यक्ति घरों से ही वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। साथ ही वह घर पर रहकर हमेशा उनके लिए ही काम करने वाली महिलाओं की मदद भी कर रहे हैं।

इनमें कुछ लोग किचन का काम कर रहे हैं तो कुछ लोग घर की सफाई करने के लिए झाडू व पोछा तक लगा रहे हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने लिए सरकार लगातार अलर्ट हैं।

घर की महिलाएं कर रही हैं आराम

ऐसे में पहले दिल्ली सरकार ने लॉक पूरी दिल्ली में लॉक डाउन की घोषणा की थी। इसके बाद मंगलवार को प्रधानमंत्री ने भी पूरे देश के लिए तीन सप्ताह का लॉक डाउन घोषित कर दिया है। ऐसे में दुनिया के सबसे लॉक डाउन को घरों में रहकर काम करने वाले लोग इसे मजेदार बनाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। शास्त्री नगर के रहने अनुज सिंह ने बताया कि वह गुरुग्राम की एक निजी कंपनी में सॉफ्टवेयर के पद पर काम करते हैं। उन्होंने बताया कि हमेशा सुबह उनकी पत्नी उनके लिए नाश्ता और दोपहर के लिए लंच बनाकर पैक करती हैं।

ऐसे में लॉक डाउन के दौरान कंपनी ने घर से ही काम करने की सलाह दी है। साथ ही मंगलवार रात को जानकारी मिली कि अब यह लॉक डाउन पूरे देश में तीन सप्ताह तक के लिए होगा। ऐसे में इन दिनों पत्नी को आराम करने की सलाह देकर किचन में दोनों समय का खाना बनाने का मौका मिला हुआ है। वहीं, राजेंद्र प्लेस के रहने वाले राहुल राय का कहना है कि वह नोएडा की कंपनी में काम करते हैं, लेकिन कोरोना के चलते कंपनी बंद है और कंपनी ने वर्क फ्रॉम होम की सलाह दी है।

मां के घरेलू काम में बांटा रहे हैं हाथ

ऐसे में राहुल इन दिनों घर में रहकर मां का घरेलू काम में हाथ बांटा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह सुबह और शाम दोनों वक्त घर की सफाई कर रहे हैं। इसमें सुबह झाडू के साथ पोछा लगाते हैं तो शाम को काम के साथ किचन में भी काम कराते हैं, जोकि उन्हें पसंद आ रहे हैं। उनका कहना है कि ऐसा करने से वह घर में कतई बोर नहीं हो रहे हैं। इससे ऑफिस का भी पूरा काम हो जा रहा है और घर का भी काम हो रहा है।  

ये भी पढ़ेंः   CoronaVirus: हरियाणा में युवक ने की Online शादी, वीडियो कॉल कर कहा 'तुम मुझे कबूल हो'

Nirbhaya Justice: फांसी से पहले दो दोषियों ने बताई थी आखिरी इच्छा, एक की रह गई अधूरी

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस