नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। कोरोना वायरस के चलते देशभर के स्कूल बंद होने के बाद परीक्षाएं भी स्थगित हो गई हैं। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में तो अभी बोर्ड पेपर समाप्त भी नहीं हुए हैं, जिससे विद्यार्थी परेशान हैं। वर्तमान परिस्थितियों में वे दबाव, डर और मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं। इन हालातों में स्कूल के शिक्षकों को ऑनलाइन कक्षाएं लेने के लिए कहा गया है।

साथ ही विद्यार्थियों के संपर्क में रहकर और ऑनलाइन कक्षाओं के जरिये काफी हद तक छात्रों का तनाव कम करने की कोशिश भी की जा रही हैं। यह बात नंद नगरी स्थित राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय के प्रधानाचार्य राकेश सेमल्टी ने कही।

उन्होंने बताया कि विद्यालय में 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के वॉट्सएप ग्रुप बना रखे हैं, जिसमें प्रतिदिन उनको कुछ विषय संबंधित सामग्री एवं प्रश्न दिए जाते हैं, जिससे छात्रों की विषय में रुचि बनी रहे। प्रतिदिन पांच से छह छात्रों को फोन करके उनका तनाव कम करने की कोशिश की जाती है। इसके साथ ही छात्रों की विषय संबंधी परेशानियों को दूर किया जाता है। उन्होंने बताया कि वे खुद छात्रों का फोन पर मार्गदर्शन करते हैं और शैक्षणिक सामग्री भी ई-मेल से उपलब्ध कराते हैं।

इसके साथ ही प्रतिदिन छात्रों व अध्यापकों को विभिन्न माध्यमों से प्रेरित भी करते हैं। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि स्कूल के शिक्षक प्रतिदिन सुबह 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को बचे हुए पेपरों के ऊपर बोर्ड परीक्षा पर आधारित एक प्रश्न भी वाट्सएप पर भेजते हैं। इस प्रश्न को हल करने का समय भी निर्धारित किया जाता है और विद्यार्थियों के उत्तरों का मूल्यांकन और विश्लेषण किया जाता है। सभी शिक्षकों को यह कहा गया है कि वे प्रतिदिन कम से कम दो विद्यार्थियों और एक अभिभावक से बात करें और उन्हें कोरोना से सावधानी के अतिरिक्त सकारात्मक और प्रेरणादायक सोच विकसित करने के लिए प्रेरित करें। इसके साथ ही उन्होंने विद्यालय के कर्मचारियों को व्यक्तिगत स्तर पर प्रधानमंत्री राष्ट्रीय सहायता कोष में भी योगदान देने को कहा है।

कुछ महत्वपूर्ण बातें

  • ज्यादातर शिक्षक ऑनलाइन पढ़ा रहे हैं। इसलिए शिक्षकों की ओर से निर्धारित समय के दौरान उपलब्ध रहें।
  • शैक्षणिक और ज्ञानवर्धकचीजें पढ़ें और अपने ज्ञान को बढ़ाएं।
  • परिवार के सदस्यों के साथ अच्छा बिताएं।
  • अपनी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए स्वस्थ भोजन खाएं।
  • अपने आप को स्वस्थ रखने के लिए घर पर कुछ शारीरिक व्यायाम करें, योगा, एरोबिक्स और इनडोर गेम्स खेलें।
  • रोजाना एक पेज लिखकर अपनी लिखावट सुधारें।
  • इस समय विद्यार्थी योजना बनाएं कि कौन सा मजबूत या कमजोर चैप्टर पहले करना है।

ये भी पढ़ेंः  AAP विधायक के खिलाफ नोएडा में FIR, यूपी के सीएम के खिलाफ विवादित बयान देने का आरोप

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस