नई दिल्ली (संतोष कुमार सिंह)। Coronavirus: कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए रेल प्रशासन अपने स्तर पर भी तैयारी कर रहा है। संक्रमित व संदिग्ध मरीजों के इलाज व देखरेख में परेशानी न हो, इसे ध्यान में रखकर क्वारंटाइन सेंटर बनाने, ट्रेन के कोच को आइसोलेशन वार्ड में परिवर्तित करने और संविदा पर डॉक्टर रखने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। साथ ही उन कर्मचारियों और उनके रिश्तेदारों की पहचान की जा रही है, जिन्हें स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में काम करने का अनुभव हो या फिर जिन्होंने इससे संबंधित कोई कोर्स किया है।

राजधानी दिल्ली में पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या तेजी से बढ़ी है। उत्तर प्रदेश, हरियाणा व अन्य राज्यों में भी रोजाना संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं। इससे रेल प्रशासन अपने कर्मचारियों की सेहत को लेकर फिक्रमंद है। मालगाड़ी का परिचालन जारी है और विशेष पार्सल ट्रेनें भी चलाई जा रही हैं। मालगाड़ी को सुचारू रूप से चलाने के लिए कर्मचारी ड्यूटी पर जा रहे हैं। इनकी सुरक्षा का ध्यान रखा जा रहा है, लेकिन संक्रमण का डर बना हुआ है।

अधिकारियों का कहना है कि जिस तरह से संक्रमण के मामले फैल सकते हैं, उससे रेलवे कॉलोनी में या इससे बाहर रहने वाले कर्मचारियों व उनके परिजनों की सुरक्षा भी जरूरी है। कई कर्मचारी खुद या उनके रिश्तेदार विदेश घूमकर आए हैं, उन्हें भी निगरानी में रखा जा रहा है।

बताया जा रहा है कि यदि संक्रमण ज्यादा फैलता है तो रेल कर्मचारियों के इलाज व देखरेख के लिए अतिरिक्त डॉक्टर और अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की जरूरत पड़ेगी। इसे देखते हुए वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी ने सभी शाखा प्रमुखों को पत्र लिखकर स्वास्थ्य सेवा में अनुभव रखने वाले कर्मचारियों की सूची तैयार करने को कहा है। अधिकांश कर्मचारी कार्यस्थल पर नहीं पहुंच रहे हैं, इसलिए मोबाइल या अन्य माध्यमों से उन तक यह सूचना पहुंचाई जा रही है।

कई कर्मचारी ऐसे हैं जो स्वास्थ्य से जुड़े कोर्स करने के बाद उस क्षेत्र में जाने के बजाय किसी और पद पर तैनात हैं। इसी तरह से कई कर्मचारियों के बच्चों या अन्य लोगों ने इस तरह के कोर्स कर रखे हैं या उनके परिवार में सेवानिवृत्त स्वास्थ्य कर्मी हैं। ऐसे लोग आपातकालीन स्थिति में सेवा देने के लिए मुख्य कर्मचारी कल्याण निरीक्षक और कर्मचारी कल्याण निरीक्षक को नाम सूचीबद्ध करा सकते हैं।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस