नई दिल्‍ली (वीके शुक्ला)। दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मददेनजर आर्थिक रूप से गरीब परिवारों के लिए बड़ी राहत देते हुए चार बड़े फैसले लिए हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को प्रेसवार्ता कर पेंशन पाने वाले करीब 8.5 लाख विकलांग, विधवाएं व बुजुर्गों की पेंशन अप्रैल माह में दोगुनी करने की घोषणा की है। इसके साथ राशन कार्ड धारकों को मुफ्त में अप्रैल में 50 फीसद अतिरिक्त के साथ 7.5 किलो राशन मिलेगा। दिल्ली के नाइट शेल्टरों में सुबह और रात का खाना सभी को निशुल्क मिलेगा। वहीं होटलों में रह कर पेड क्वारंटाइन करा रहे लोगों को जीएसटी से छूट दी जाएगी।

कोरोना को लेकर सरकार सतर्क

मुख्यमंत्री ने कोरोना के चलते पहली ऑनलाइन प्रेसवार्ता कर कहा कि सरकार पिछले कुछ दिनों से कोरोना को काबू करने के लिए दिल्ली के लोगों और केंद्र सरकार के साथ मिल कर कई सारे कदम उठा रही है। दिल्ली में अभी तक 26 केस हुए हैं। जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई है। इसमें 4 केस ऐसे हैं, जो स्थानीय स्तर पर एक आदमी से दूसरे आदमी में फैले हैं। बाकी 22 केस ऐसे हैं, जो लोग विदेशों से बीमारी लेकर आए थे। अभी इसके फैलने का सिलसिला बहुत तेजी से आगे नहीं बढ़ा है। इसके बावजूद हमें अपनी तरफ से सभी ऐहतियात बरतनी है। क्योंकि दुनिया भर में हम लोगों ने देखा है कि जब यह फैलना शुरू हो जाता है, तो इतनी तेजी से फैलता है कि किसी के काबू में नहीं आता है। हम लोग इटली, ईरान, चीन और जापान के उदाहरण देख चुके हैं। हम नहीं चाहते हैं कि हमारे दिल्ली के अंदर इस तरह की परिस्थिति बने।

अब एक स्थान पर 5 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर रोक

अब एक स्थान पर 5 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर रोक लगर दी गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ दिन पहले हम लोगों ने आदेश जारी किया था कि किसी सामाजिक, राजनीतिक, पारिवारिक, कांफ्रेंस, सेमिनार आदि में 20 से अधिक लोगों को एक जगह एकत्र होने की अनुमति नहीं है। इसे हम लोगों ने संशोधित करते हुए इस तरह के कार्यक्रम में अधिकतम संख्या 5 लोगों की कर दी है। जहां पर लाइन लगाने की जरूरत पड़ती है। अगर कहीं लाइन भी लगानी पड़े तो कम से कम दो लोगों के बीच एक मीटर की दूरी बना कर रखें।

होटल में रह कर क्वारंटाइन करा रहे लोगों को जीएसटी से छूट

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग बाहर से आए हैं, उन्हें क्वारंटाइन किया जा रहा है। जब हम सरकारी व्यवस्था के तहत उन लोगों को क्वारंटाइन किए, तो कुछ लोगों को वहां की कंडिशन (सुविधाएं) पसंद नहीं आईं। हो सकता है कि वे आरामदायक सुविधाएं चाहते हैं। इसलिए उनके लिए कुछ होटलों में इंतजाम किए गए थे। उन होटलों में पेड फैसिलिटी है। वे खुद खर्च वहन कर करके वहां पर रह रहे हैं। अब ऐसे लोगों से जीएसटी शुल्क नहीं लिया जाएगा।

72 लाख लोगों को अप्रैल में मिलेगा अतिरिक्त राशन

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की वजह से बहुत सारी बंदिशें लगाई गई हैं। इसकी वजह से बहुत सारे गरीब लोगों पर मार पड़ रही है। दिहाड़ी मजदूरी करने वाले लोग रोज कमाते थे और खाते थे। उनमें से कई लोगों की दिहाड़ी चली जा रही है। इसलिए हम जिन लोगों को राशन देते हैं, उसी व्यवस्था से दिल्ली के 72 लाख लोग जुड़े हैं। हर महीने प्रत्येक व्यक्ति को चार किलो गेहूं, एक किलो चावल और अलग से चीनी मिलती है। इसमें 50 फीसद की वृद्धि कर इसकी जगह अब इस माह एक व्यक्ति को साढ़े 7 किलो राशन मुफ्त दिया जाएगा। अप्रैल महीने का राशन 30 मार्च से ही मिलना शुरू हो जाएगा।

पेंशन लाभार्थियों को अप्रैल में बढ़ा कर पैसा दिया जाएगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में 2.5 लाख विधवा महिलाओं, 5 लाख बुजुर्गों व एक लाख दिव्यांगों को पेंशन दी जाती है। इसे इस माह दोगुना किया जा रहा है। जिन्हें कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा मार झेलनी पड़ेगी। इन लोगों के घर में थोड़ा ज्यादा राशन और पैसा आएगा तो इन्हें कोरोना की मार से मदद मिलेगी।

नाइट शेल्टर में रह रहे लोगों को सरकार देगी सुबह और रात में खाना

मुख्यमंत्री ने बेघर लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था कर दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग सड़कों पर सोते हैं। उनके लिए नाइट शेल्टर में खाने का इंतजाम कर रहे हैं। 220 नाइट शेल्टर में लंच और डिनर का इंतजाम कर रहे हैं। यहां कोई भी आकर खाना खा सकेगा।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस