नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Coronavirus Cases in Delhi: तमाम सावधानी बरतने के बावजूद दिल्ली सचिवालय में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। दिल्ली सचिवालय में 3 और कर्मचारियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इनमें से दो दिल्ली सचिवालय के दूसरी मंजिल पर स्थित सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) में कार्यरत हैं। एक सातवें फ्लोर पर लोक निर्माण मंत्री कार्यालय से सम्बद्ध हैं।

दिल्ली सचिवालय के एक अधिकारी ने बताया कि सामान्य प्रशासन विभाग के जिम्मे सचिवालय के रखरखाव का काम भी होता है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इनके कांटेक्ट से और भी कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो सकते हैं। सचिवालय के कर्मचारी डरे हुए हैं । उन्होंने सभी की कोरोना जांच कराए जाने की मांग ही है।

बता दें कि इससे पहले सामान्य प्रशासन विभाग के उपसचिव स्तर के अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। इससे पहले स्वास्थ्य सचिव के कार्यालय का ड्राइवर कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद स्वास्थ्य मंत्री के निजी सचिव भी कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे।

एनएसजी के आठ जवान कोरोना संक्रमित

आतंकवाद निरोधक बल एनएसजी के आठ जवान कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि, ये जवान बल के प्रशासनिक कायरें से जुड़े हैं।अधिकारियों ने बताया कि नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) के जिन आठ जवानों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है उन्हें ग्रेटर नोएडा में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) के रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें संक्रमण के लक्षण नहीं थे। सीएपीएफ में 70 फीसद हुई ठीक होने की दर केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) में कोरोना संक्रमित जवानों की ठीक होने की दर 70 फीसद हो गई है। केंद्रीयकृत आंकड़े के अनुसार, सीएपीएफ, नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) व नेशनल डिजास्टर रेस्पांस टीम (एनडीआरएफ) में 31 मई तक कोविड-19 के कुल 1,426 मामले सामने आए। अबतक 894 जवान ठीक हो चुके हैं, जबकि 435 अभी भर्ती हैं। सीएपीएफ में सोमवार को कोरोना संक्रमण के 28 नए मामले सामने आए हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस