नई दिल्ली, एएनआइ। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव और खतरे के मद्देनजर नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (All India Institute of Medical Sciences) ने इस महामारी के लिए प्रबंधन प्रोटोकॉल विकसित करने के लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया है।

यहां पर बता दें कि दिल्ली समेत पूरे देश में कोरोना वायरस के मामले में इजाफा होता देखकर लॉकडाउन कर दिया गया है। इस दौरान जरूरी चीजों की दिक्कत नहीं हो, इसके लिए दिल्ली सरकार ने कुछ अहम फैसले लिए हैं, जिसके तहत दूध, किराना, मांस-मछली, दवाई आदि की दुकानें खुली हुई हैं। वहीं, दिल्ली सरकार ने आवश्यक चीजों की आपूत्ति बनी रहे, इसलिए कुछ लोगों को पास भी जारी किए गए हैं। इसी के साथ रिटेलर्स को भी पास जारी किए जा सकते हैं। ऑनलाइन खरीदारी करने की स्थिति में सामान आपके घर पहुंचेगा, इसकी भी तैयारी की जा रही है।

बता दें कि चीन, ईरान, स्पेन, इटली, अमेरिका समेत 190 से अधिक देशों में अपने पैर पसार चुका खतरनाक कोरोना वायरस अब तक 20,000 से अधिक लोगों की जान ले चुका है। इसी साथ पूरी दुनिया में लाखों लोग चपेट में हैं, जिनका विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। भारत में ही 600 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं, जबकि दर्जनभर लोगों की जान जा चुकी है। 

दिल्ली से सटे यूपी में कुल 43 मामले सामने आए हैं, तो दिल्ली में 36 मामले सामने आए हैं। इनमें 14 मामले सिर्फ नोएडा से हैं। जिन लोगों को यह रोग हुआ है, उनका रिश्ता कहीं न कहीं विदेश से आने वाले शख्स रहा है।

पूर्वी दिल्ली के दिलशाद गार्डन इलाके में विदेश से लौटी महिला ने 7 व्यक्ति को कोरोना वायरस की चपेट में ला दिया है। इनमें एक डॉक्टर और उसकी बेटी भी है। इन सभी पीड़ितों का इलाज दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में किया जा रहा है।

 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस