नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। Coroanvirus lockDown day 3: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को फेसबुक लाइव होने के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया है कि दिल्ली में रह रहे हर शख्स की जिम्मेदारी उनकी अपनी है। दरअसल, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अपने प्रदेश के लोगों की चिंता पर केजरीवाल कहा कि देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को आश्वासन देना चाहता हूं कि किसी भी राज्य का कोई व्यक्ति दिल्ली में रह रहा है तो वह हमारी जिम्मेदारी है। 

साथ ही कहा कि दिल्ली की सीमा में चाहे झारखंड के लोग हों, चाहे बिहार के और चाहे पश्चिमी बंगाल के, सभी का यहां पर ख्याल रखा जाएगा। 

इस मौके पर अरविंद केजरीवाल ने बताया कि हमारी जिम्मेदारी सभी की है और हम एक-एक व्यक्ति का ख्याल रखेंगे। दिल्ली की सीमाओं के अंदर जो जो व्यक्ति रह रहे हैं उन सब की जिम्मेदारी हमारी है। वह सब हमारे हैं वह झारखंड के हो सकते हैं बिहार के हो सकते हैं तमिलनाडु के हो सकते हैं। केरल के हो सकते हैं ,लेकिन वह है दिल्ली के। वो अब हमारे हैं। 

यहां पर बता दें कि कोरोना वायरस से लड़ रही दिल्ली वालों की मदद के लिए लॉकडाउन होने के बाद भी दिल्ली सचिवालय खुला हुआ है। सचिवालय में चार मंत्रियों के विभाग लगातार काम कर रहे हैं और जरूरी बैठकें भी हो रही हैं। वैसे तो दिल्ली में सभी सरकारी विभाग बंद हैं, लेकिन दिल्ली सचिवालय में भी तीन मंत्रियों के दफ्तर पर ताला है, जबकि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, स्वास्थ्य मंत्री व गृह मंत्री सत्येंद्र जैन, राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत व खाद्य एवम आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन का कार्यालय खुला है। इनके विभाग के कर्मचारी कार्यालय जा रहे हैं, मगर इनकी संख्या कम है। ऐसा कोरोना वायरस के चलते बने हालात के मद्देनजर किया जा रहा है। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस