नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। दिल्ली में छठ पूजा पर लगा प्रतिबंध हटाने के लिए प्रदेश कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री निवास का घेराव किया। प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने छठ पूजा मनाने पर पाबंदी लगाने का आदेश जारी कर पूर्वांचलवासियों की आस्था से खिलवाड़ किया है। उन्होंने इस आदेश को निरस्त करने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र भी लिखा है।

गोपाल राय पर भी साधा निशाना, कहा- उनकी बातें दिल्लीवासियों को गुमराह कर रही

उन्होंने कहा कि दिल्ली के मंत्री गोपाल राय का यह वक्तव्य कि अगर केंद्र सरकार छठ पर निर्देश दे तो दिल्ली में छठ पर छूट संभव होगी, पूरी तरह से दिल्ली वासियों को गुमराह करने वाला है। केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्यों को दीपावली और छठ मनाने के निर्देश पहले ही जारी किए जा चुके है।

पूर्वांचलियों की आस्था को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार छठ पर्व पर पाबंदी तत्काल हटाए

चौधरी ने मांग की कि पूर्वांचलियों की आस्था को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार छठ पर्व पर पाबंदी तत्काल के फैसले को निरस्त करे और कोविड-19 की गाइडलाइंस के तहत छठ मनाने की इजाजत दे।

घाटों का बेहतर प्रबंध करे सरकार जिससे जनता को हो आसानी

उन्होंने यह भी कहा कि घाटों पर दिल्ली सरकार को छठ आयोजन के लिए बेहतर प्रबंध करके पूर्वांचल के लोगों की परेशानी कम करने का प्रयास करना चाहिए।

इन्होंने किया प्रदर्शन

प्रदर्शनकारियों में पूर्व केंद्रीय मंत्री जगदीश टाईटलर, पूर्व सांसद रमेश कुमार, प्रदेश पूर्वांचल कांग्रेस के चेयरमैन शिवजी सिंह, पूर्व मंत्री डा नरेंद्र नाथ, पूर्व विधायक जय किशन, प्रदेश उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल, प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन एवं दिल्ली प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष रणविजय सिंह लोचव इत्यादि मुख्य रूप से शामिल थे।

Edited By: Prateek Kumar