नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली में तीन साल से सत्तासीन आम आदमी पार्टी जहां बुधवार को वर्षगांठ पर जश्न मना रही है, वहीं कांग्रेस पार्टी ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन समेत कई वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में 'चार्जशीट' रिलीज की है। यह 'चार्टशीट' दिल्ली में तीन साल से सरकार चला रही आम आदमी पार्टी के खिलाफ है।

इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर जोरदार हमला बोला है। 15 तक दिल्ली की सीएम रही शीला दीक्षित ने कहा कि  AAP सरकार लोकपाल और अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति में प्रक्रिया का पालन नहीं कर रही है।

उन्होंने आरोप लगाया कि AAP सरकार का काम दिखाई नहीं देता है, इसे विज्ञापन की सरकार कहते हैं। काम कम विज्ञापन अधिक चिंता का विषय है। केवल ये कहना कि हम करने जा रहे हैं यह काफी नहीं है। कहीं भी काम नहीं दिखाई दे रहा है। ये ऐसी सरकार है जो बोलती बहुत है, लेकिन कुछ करती नहीं है।

वहीं, इससे पहले दिल्लीवासियों से किए गए 90 फीसद वादे पूरे करने के आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार के दावे को भाजपा ने झूठ करार दिया है। उसका कहना है कि लोगों से किए गए दस फीसद वादे भी पूरे नहीं हुए हैं। दिल्ली विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनके साथी सरकार चलाने के आधारभूत सिद्धांतों पर नहीं चलना चाहती है।

भारतीय संविधान, दिल्ली सरकार और दिल्ली विधानसभा के नियमों, कानून व परंपराओं की अनदेखी उनकी आदत में शुमार हो गई है। इसी कारण उन्होंने प्रधानमंत्री, उपराज्यपाल, चुनाव आयोग जैसे संवैधानिक संस्थाओं और पदों पर भी अमर्यादित टिप्पणी की है।

प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि आप सरकार ने पिछले तीन वर्ष के कार्यकाल में भ्रष्टाचार, भाई भतीजावाद, वीआइपी संस्कृति, फर्जीवाड़ा के कई उदाहरण प्रस्तुत किए हैं। केजरीवाल ने मुख्यमंत्री की शपथ लेते हुए दिल्ली को भ्रष्टाचार मुक्त करने का एलान किया था।

इसके विपरीत हवाला मामले के आरोपी मंत्री सत्येंद्र जैन मुख्यमंत्री के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे हैं। इसी प्रकार से वक्फ बोर्ड में भ्रष्टाचार के आरोपी विधायक अमानतुल्लाह खान को फिर से बोर्ड का अध्यक्ष बनाने की हरसंभव कोशिश की गई।

सरकार के मंत्री संदीप कुमार, जितेंद्र सिंह तोमर और असीम अहमद खान के कारनामों के कारण दिल्ली को शर्मसार होना पड़ा। अनधिकृत कॉलोनियों और ग्रामीण इलाकों में पानी अभी तक नहीं पहुंचा है। तीन साल में पानी की दरें एक-तिहाई बढ़ गई।

वर्ष 2015 में दिल्ली विधानसभा चुनाव में एतिहासिक जीत के साथ सरकार बनाने वाली आम आदमी पार्टी (AAP) ने बुधवार को तीन साल पूरे कर लिए। इस मौके पर नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) कन्वेंशन सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में AAP सरकार के तीन साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गिनाईं उपलब्धियां। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के बाद उनकी सरकार के समय सबसे अधिक काम हुआ। यहां पर बता दें कि दिल्ली में अरविंद केजरीवाल सरकार के आज यानी 14 फरवरी को 3 साल पूरे हो गए हैं। तीन साल पहले 14 फरवरी, 2015 को वैलेंटाइन डे पर ही 70 में से 67 सीटें जीतकर आम आदमी पार्टी सरकार ने शपथ ली थी।

सिर्फ तीन साल में किया 70 साल वाला काम

NDMC के कन्वेंशन सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने शिक्षा और स्वास्थ्य में अभूतपूर्व कार्य किया है। अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में जो 70 साल में काम हुए, उतना उनकी सरकार ने सिर्फ 3 साल के कार्यकाल में कर दिखाया।

इस दौरान सीएम केजरीवाल ने स्वास्थ्य के अलावा सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर में सुधार, किफायती बिजली और किसानों के लिए बढ़े हुए मुआवजे का खास जिक्र किया।

दिल्ली सरकार के सभी अस्पतालों में दवाइयां मिल रहीं मुफ्त

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के मुताबिक, दिल्ली पहला राज्य है जहां अगर आप को इलाज व ऑपरेशन के लिए सरकारी अस्पताल में तारीख नहीं मिलती है तो प्राइवेट अस्पताल में इलाज करा सकते हैं। दिल्ली सरकार के सभी अस्पतालों में दवाइयां फ्री की गई हैं।

Posted By: JP Yadav