नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश में खोई जमीन की तलाशने में कांग्रेस पार्टी द्वारा तौकीर रजा खां से हाथ मिलाना भारी पड़ रहा है। भाजपा व अन्य राजनीतिक दलों के साथ विश्व हिंदू परिषद (विहिप) भी देश की सबसे पुरानी पार्टी पर हमलावर है। विहिप के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा कि हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलने वाले इत्तेहादुल-ए- मिल्लत काउंसिल (आइएमसी) अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा खां को विधानसभा चुनाव नजदीक आने के साथ अपनी छाती से लगाकर अपने हिंदूद्रोही चेहरे को फिर से सामने किया है, लेकिन इस बार हिंदु समाज सुप्तावस्था में नहीं है। वह जाग चुका है।

तकरीबन 10 दिन पहले बरेली में आयोजित मुस्लिम धर्म संसद में तौकीर रजा खान ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि अगर मुस्लिम युवा खड़े हो गए तो हिंदुओं को भारत में छुपने की जगह नहीं मिलेगी। वही तौकीर रजा खान सोमवार को लखनऊ में कांग्रेस पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू व अन्य के साथ मंच पर खड़े नजर आएं और प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के समर्थन की घोषणा की है। इससे विहिप आगबबूला है।

विनोद बंसल ने कहा कि वैसे भी कांग्रेस का हिंदूद्रोही चेहरा जग जाहिर है। उसने केंद्र में पूर्ववर्ती संप्रग सरकार में किस प्रकार साधु, संतो व भगवा अपमानित किया। यहीं नहीं हिंदुओं को आतंकवादी साबित करने का प्रयास किया। देश के बहुसंख्यक समाज को दोयम दर्जे का नागरिक बनाने की भी उसकी कोशिशें जारी है। अभी चुनाव नजदीक आने के साथ ही वह इस्लामिक जेहादियों को छाती से लगाने का काम शुरू कर दिया है। ऐसे में उसकाे अपना नाम बदलकर इत्तेहादुल मुसलमीन या इत्तेहादुल जिहादिज्म रख लेना चाहिए।

Edited By: Vinay Kumar Tiwari