नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में तापमान गिरने के साथ ठिठुरन भरी सर्दी में इजाफा होना शुरू हो गया है। बृहस्पतिवार सुबह तापमान 8 डिग्री के आसपास रहा, जिससे दफ्तर जाने वालों के साथ स्कूली बच्चों को भी दिक्कत पेश आई। 

वहीं, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) के अनुसार दिल्ली में उत्तर की दिशा से पहाड़ी इलाकों से ठंडी हवा पहुंच रही है, जिससे ठंड बढ़ रही है। आने वाले दिनों में इसी तरह से न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस के आस पास ही रह सकता है। उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ ने दस्तक दी थी। इसके कारण कई पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हुई है, जिसका प्रभाव मैदानी इलाकों में पड़ रहा है।

इससे पहले बुधवार को इस इस वर्ष सर्दी के मौसम का सबसे कम न्यूनतम तापमान दर्ज हुआ। सफदरजंग में न्यूनतम तापमान 7.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। वहीं अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। 

इसी वजह से 4 दिसंबर के दिन न्यूनतम तापमान ने बीते सात सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इससे पहले न्यूनतम तापमान वर्ष 2012 में इसी दिन 7 डिग्री दर्ज हुआ था।

सबसे कम न्यूनतम तापमान लोदी रोड में 7.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। साथ ही अन्य जगहों पर न्यूनतम तापमान भी कम रहा। न्यूनतम तापमान पालम में 8.5 डिग्री, जाफरपुर में 7.7 डिग्री, मुंगेशपुर में 7.6 डिग्री और पूसा में 7.3 डिग्री दर्ज हुआ। बुधवार को हवा में नमी का अधिकतम स्तर 100 फीसद व न्यूनतम स्तर 41 फीसद दर्ज हुआ। मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार के दिन बादल छाए रह सकते हैं। अधिकतम तापमान 24 डिग्री और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री रह सकता है। शुक्रवार को भी बादल छाए रह सकते हैं। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस