नई दिल्ली [धनंजय मिश्र]। लव जिहाद का शिकार हुई छत्तीसगढ़ निवासी युवती के साथ अब सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। युवती का आरोप है कि मुख्य आरोपित के इशारे पर बृहस्पतिवार की रात तीन लोगों ने हाथ पैर बांधकर न सिर्फ सामूहिक दुष्कर्म किया, बल्कि मारपीट भी की गई। इसके अलावा अश्लील वीडियो भी बनाया गया। आरोपित पहले से भी उसे मुकदमा वापस लेने के लिए धमकाते रहे हैं। युवती ने पुलिस पर भी कार्रवाई करने में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

शिकायत को नजरअंदाज कर कार्रवाई में देरी करने का आरोप

पीड़िता के मुताबिक 29 अक्टूबर को उसने दानिश राणा उर्फ दिनेश राणा उर्फ ईनाम अली के खिलाफ शिकायत दी थी। इसमें ब्लैकमेल कर दुष्कर्म करने और हिंदूू बता कर शादी करने का आरोप लगाया था। इस मामले की एफआइआर दर्ज हुए एक महीने से अधिक समय हो गया, लेकिन पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं की।

मुख्य आरोपित के इशारे पर तीन लोगों ने दिया वारदात को अंजाम

पीड़िता के पति की 2017 में मौत हो गई थी। इसके बाद छत्तीसगढ़ में ही उसकी मुलाकात दिनेश राणा नामक शख्स से हुई। कुछ समय पहले उसने पीड़िता को दिल्ली बुला लिया। यहां उसे एक मकान में रखा गया। इस दौरान उसे पता चला दिनेश हिंदूू नहीं है। उसका नाम दानिश राणा उर्फ ईनाम अली है। आरोप है कि उसने पीड़िता से जबरन निकाह किया और उसे गोमांस भी खिलाया। बुराड़ी थाना पुलिस ने 29 अक्टूबर को मामला दर्ज किया था।

Edited By: Prateek Kumar