नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। आने वाले दिनों में दिल्ली की मुख्य सड़कों पर लोगों को बसों के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी (aam aadmi party) सरकार ने मुख्य सड़कों पर 3 से 6 मिनट के अंतराल पर बस सुविधा मुहैया कराने के लिए 36 नए रूट प्रस्तावित किए गए हैं। इसमें 21 सुपर ट्रंक रूट शामिल हैं। इन ट्रंक रूटों की लंबाई औसतन 11 किलोमीटर से लेकर 42 किलोमीटर तक है।

सरकार ने दिल्ली इंटीग्रेटेड मल्टी मॉडल ट्रांजिट सिस्टम (Delhi Integrated Multi Model Transit System) को बस रूटों को तर्कसंगत बनाने के लिए वैज्ञानिक स्टडी की जिम्मेदारी सौंपी थी। इसके लिए विशेषज्ञों की मदद ली गई। डिम्ट्स ने स्टडी पूरी कर सरकार को रिपोर्ट सौंप दी है, जिसे सरकार जल्द ही मंजूरी देने जा रही है। इसमें ट्रंक रूट बनाने सहित कई अन्य सिफारिशें की गई हैं। सामान्य रूटों की अपेक्षा ट्रंक रूटों की लंबाई अधिक रखी गई है। इसके दायरे में राजधानी दिल्ली के सभी महत्वपूर्ण इलाकों को लाने की कोशिश की गई है।

हवाई अड्डा आना-जाना भी होगा आसान

आने वाले दिनों में दिल्ली में इंदिरा गांधी हवाई अड्डा आने जाने के लिए भी यातायात में सुधार होगा। डिम्ट्स ने जिन नए बस रूटों को शुरू करने की सिफारिश की है, उनमें हवाई अड्डा बस सेवा के लिए 3 नए रूट भी शामिल हैं।

यहां पर बता दें कि दिल्ली देहात समेत आंतरिक इलाकों में दिल्ली मेट्रो की तुलना में दिल्ली परिवहन निगम की बसों की पहुंच ज्यादा है। यही वजह है कि मेट्रो का जाल पूरी दिल्ली में बिछने के बावजूद लोग डीटीसी बसों में सफर को भी प्राथमिकता देते हैं। ऐसे में आने वाले समय में दिल्ली सरकार का यह प्रयास रंग लाने वाला है और लोगों को बड़ी सहूलियत  मिलेगी। कुल मिलाकर दिल्ली सरकार की यह कोशिश लागों लोगों का सफर आसान करने जा रही है। 

यहां पर बता दें कि दिल्ली में परिवहन व्यवस्था की हालत कई सालों से ठीक नहीं है। इसको लेकर दिल्ली हाई कोर्ट से लेकर अन्य संस्थान भी विरोध जता चुके हैं। विश्व में सबसे बड़ी परिवहन व्यवस्था में शुमार DTC सही मायनों में बिगड़े हालात से गुजर रही है। 

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप