नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। भाजपा ने दिल्ली सरकार से नगर निगमों को तुुुरंत बकाया फंड जारी करने की मांग की है जिससे कि कर्मचारियों के वेतन का भुगतान हो सके। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि निगम के कर्मचारी दिल्ली को साफ रखने, सैनिटाइज करने के साथ ही क्वारंटाइन सेंटर में भी काम कर रहे हैं।

दिल्ली सरकार की भेदभाव की नीति के कारण कोरोना से संघर्ष करने वाले इन योद्धाओं को वेतन नहीं मिला है। नई दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि आर्थिक संकट व संसाधनों के अभाव में निगम कर्मचारियों ने सफाई और सैनिटाइजेशन का काम किया है। दिल्ली सरकार ने निगमों की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए पांचवें वेतन आयोग की 80 फीसद सिफारिश को मानने से इन्कार कर दिया।

निगमों को 1072 करोड़ का वार्षिक अनुदान दिया जाना है, लेकिन इस वर्ष इस साल दिल्ली सरकार ने कोई भी अनुदान राशि नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की वजह से कोरोना से संघर्ष करने वाले योद्धा खुद संकट में हैं। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव बब्बर, उत्तरी दिल्ली नगर निगम महापौर अवतार सिंह भी मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस