नई दिल्ली [शुजाउद्दीन]। खजूरी खास इलाके में 13 मार्च को दुकानदार की गोलियों से भूनकर की गई हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। उत्तर पूर्वी जिले के स्पेशल स्टाफ ने सुपारी लेकर हत्या करने वाले बिहार के दानापुर निवासी बदमाश नकुल उर्फ सोनू राज काे गिरफ्तार किया है। आरोपित को सुपारी देने वाले नेता और दुकानदार की हत्या में शामिल दो और बदमाशों की तलाश में पुलिस बिहार में छापेमारी कर रही है। पुलिस को जांच में पता चला है मृतक दुकानदार सोहराब उर्फ गुड्डू उर्फ रुस्तम पर बिहार में हत्या, लूट समेत कई आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। वह कई मामलों में वांछित चल रहा था। जांच में पता चला उसकी हत्या पटना के कथित बाहुबली नेता अजय वर्मा ने सुपारी देकर करवाई है।

जिला पुलिस उपायुक्त संजय कुमार सेन ने बताया कि 13 मार्च की रात श्रीराम कालोनी में सोहराब नाम के दुकानदार की गोलियां बरसाकर हत्या किए जाने की सूचना मिली थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और जांच शुरू की। इंस्पेक्टर विनय यादव के नेतृत्व में टीम बनाई गई। पुलिस को जांच में पता चला सोहराब बिहार का बड़ा गैंगस्टर था। टीम ने घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली तो उसमें बदमाश कैद मिले। दिल्ली पुलिस की टीम ने पटना में छापेमारी की तो पता चला कि इस हत्या में बदमाश सोनू राज, संतोष और गौरव शामिल थे।

टेक्निकल सर्विलांस के जरिये पुलिस ने बृहस्पतिवार को सोनू को नोएडा के खोड़ा कालोनी से उसकी प्रेमिका के घर से दबोच लिया। सोनू ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि सोहराब ने 2017 में अजय वर्मा पर जानलेवा हमला किया था, लेकिन हमले में अजय बच गया था। इस हमले का बदला लेने के लिए ही अजय ने उसे सोहराब की हत्या की सुपारी दी। इस काम के लिए एक लाख रुपये नकद के साथ एक सोने की चेन में सौदा तय हुआ था। उसने बताया कि सोहराब की हत्या में उसका रिश्तेदार लल्लू भी शामिल था, उसी ने दिल्ली में सोहराब का पता बताया था।

सोनू अपने दोनों साथियों के साथ 21 फरवरी को बिहार से दिल्ली आ गया था और किराये पर कमरा लेकर रहने लगा। सोहराब ने भी हत्या से 15 दिन पहले ही कपड़े की दुकान खोली थी, बदमाशों ने कई बार दुकान की रेकी की थी। हत्या करने के बाद बदमाश बिहार फरार हो गए थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप