गाजियाबाद, जेएनएन। दिल्ली से सटे गाजियाबाद में मौजूद एनसीआर की एक बड़ी मार्केट में भीषण आग लग गई है। आग लगने की वजह से मार्केट की 40 से ज्यादा दुकानें जलकर राख हो गईं हैं। दिवाली से ठीक पहले फर्नीचर मार्केट में आग लगने से यहां के व्यापारियों को करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ है। आग इतनी भयंकर है कि पांच घंटे बाद भी अग्निशमन कर्मचारी उसे काबू करने में लगे हुए हैं।

फर्नीचर मार्केट में आग लगने की ये घटना साहिबाबाद के भोपुरा स्थित फर्नीचर मार्केट में हुई है। फर्नीचर की बड़ी मार्केट होने के कारण यहां पूरे एनसीआर से लोग खरीदारी करने आते थे। दुकानदार भी यहां से पूरे एनसीआर में फर्नीचर की सप्लाई करते हैं। फर्नीचर मार्केट रिहायशी एरिया से एकदम सटी हुई है।

बताया जा रहा है कि शुक्रवार तड़के करीब तीन बजे मार्केट में आग लगी थी। मार्केट में मौजूद दुकानदारों और उनके कर्मचारियों ने पहले खुद आग को काबू करने का प्रयास किया। सफल न होने पर सुबह करीब चार बजे गाजियाबाद पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने तुरंत अग्निशमन विभाग को सूचना दी। सूचना पाकर पहले साहिबाबाद से अग्निशमन कर्मचारी दमकल की गाड़ियां लेकर पहुंचे थे।

आग काफी बड़ी होने की वजह से तत्काल सूचना देकर गाजियाबाद के सभी फायर स्टेशन से दमकल गाड़ियों को मौके पर बुला लिया गया। साथ ही नोएडा और हिंडन एयरबेस से भी दमकल गाड़ियों को मौके पर बुला लिया गया। सुबह चार बजे से शुरू हुआ राहत व बचाव कार्य पांच घंटे बाद सुबह नौ बजे भी जारी थी। अब भी मौके पर 200 से ज्यादा फायरकर्मी और पुलिस के जवान मौजूद हैं।

अग्निशमन अधिकारियों के मुताबिक आग को पूरी तरह से काबू करने में अभी और वक्त लगेगा। लकड़ियों के ढेर के नीचे गर्मी की वजह से बार-बार आग लग जा रही है। ऐसे में उसे दोबारा पानी डालकर बुझाना पड़ रहा है। आग लगने की वजह अभी स्पष्ट नहीं है। आशंका है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी। फर्नीचर मार्केट में बहुत ज्यादा लकड़ियां, कपड़े, फोम व केमिकल रखा होने की वजह से आग ने जल्द ही विकराल रूप धाऱण कर लिया था। इस दौरान किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। राहत व बचाव कार्य के दौरान साहिबाबाद फायर स्टेशन का एक फायर मैन सागर घायल हो गया है। उसे यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जोरों से चल रही थी दिवाली की तैयारी

फर्नीचर मार्केट के दुकानदारों का कहना है कि दिवाली से ठीक पहले लगी आग ने उन्हें बुरी तरह से बर्बाद कर दिया है। मार्केट में इन दिनों दिवाली की तैयारियां जोरों पर चल रहीं थीं। दिवाली की वजह से दुकानदारों के पास काफी ज्यादा आर्डर थे। इस वजह से आम दिनों की अपेक्षा मार्केट में काफी ज्यादा फर्नीचर मौजूद था। आग की वजह से फर्नीचर तो जल ही गया, अब दुकानदारों को दिवाली पर ऑर्डर की डिलीवरी की चिंता बढ़ गई है।

सिलेंडर फटने से भड़क गई आग

फायर विभाग के अधिकारियों के अनुसार मार्केट में कई छोटे गैस सिलेंडर रखे थे। आग लगने पर सिलेंडर फटने लगे। इससे आग और तेजी से फैल गई। आग की वजह से कई छोटे गैस सिलेंडर फटे हैं। इसके अलावा मार्केट में मौजूद दुकानदारों और कर्मचारियों की बाइकें आदि भी जलकर राख हो गईं हैं। मार्केट में कुछ भी सुरक्षित नहीं है।

जान बचाने को घरों से निकल गए लोग

फर्नीचर मार्केट रिहायशी एरिया से एकदम सटा हुआ है। ऐसे में मार्केट में आग लगने से उसकी लपटे रिहायशी एरिया के मकानों तक भी पहुंचने लगीं थीं। आग की लपटें तीन-चार मंजिल तक पहुंच रहीं थीं। ऐसे में मार्केट से सटे रिहायशी एरिया के लोगों को आग लगने पर जान बचाने के लिए घरों से बाहर निकलना पड़ा। आग की वजह से उनके घरों का तापमान काफी ज्यादा हो गया है।

Posted By: Amit Singh