नोएडा, जेएनएन। शादी में एक करोड़ रुपये नकद और जेवरात न मिलने पर दूल्हा पक्ष बिना दुल्हन लिए बरात वापस लेकर चला गया। आरोप है कि दूल्हा पक्ष ने दुल्हन पक्ष पर  दहेज देने का दबाव बनाया। दहेज न मिलने पर बाउंसर बुलाकर दुल्हन के पिता व परिवार के लोगों की पिटाई कराई। दुल्हन की तहरीर पर पुलिस ने दूल्हे, उसके पिता सहित 13 लोगों के खिलाफ दहेज का मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं की है। पुलिस ने बताया कि दिल्ली के सेक्टर 13 रोहिणी में रहने वाली गरिमा नाहर का रिश्ता ग्रेटर नोएडा के जेपी ग्रीन के स्टार कोर्ट में रहने वाले व्यापारी अक्षत गुप्ता के साथ हुआ था। यह रिश्ता दोनों परिवारों की  रजामंदी के बाद तय हुआ था।

12 अप्रैल को हुई थी सगाई
12 अप्रैल को जेपी ग्रीन रिसोर्ट में दोनों के सगाई की रस्म हुई। पुलिस को दी तहरीर में दुल्हन ने कहा कि लड़के पक्ष के लोगों ने कहा था कि सगाई का पूरा खर्च वह स्वयं उठाएंगे। लेकिन बाद में उन्होंने पूरा पैसा दुल्हन के पिता से लिया। सगाई के दौरान परिवार के सदस्यों को सोने की गिन्नी और चेन देने का दबाव बनाया। बाद में 26 जून को जेपी ग्रीन रिसोर्ट में शादी तय हुई।

बरात पहुंची लेकिन दुल्हा नहीं आया
निर्धारित तिथि पर दोनों परिवार शादी समारोह में पहुंचे, लेकिन दूल्हा नहीं आया। दूल्हा पक्ष की तरफ से दहेज में एक करोड़ रुपये और जेवरात की मांग की गई। काफी मान मनौव्वल के बाद भी दूल्हे के परिवार के लोग नहीं माने। लड़की पक्ष ने मांग पूरी करने से मना किया तो दूल्हे पक्ष ने शादी से इनकार कर दिया। आरोप है कि दूल्हे पक्ष के लोगों ने बाउंसर बुलाकर दुल्हन के पिता और परिवार के लोगों की पिटाई कराई। बरात में भगदड़ मच गई और सभी वापस लौट गए। 

दुल्हन गरिमा नाहर की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी दूल्हे अक्षत गुप्ता उसके  पिता विजय कुमार और परिवार के नौ लोगों समेत 13 के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। इसमें चार बाउंसर भी शामिल है। बीटा-दो कोतवाली प्रभारी अजय कुमार का कहना है कि युवती की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। जल्द ही आरोपितों की गिरफ्तारी की जाएगी।

 दिल्ली- NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप