नई दिल्ली (जेएनएन)। बैंक कर्मचारियों की मंगलवार को प्रस्तावित हड़ताल से सार्वजनिक बैंकों में सामान्य कामकाज प्रभावित होने की सूचना आ रही है। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) की अगुवाई में बैंककर्मियों की यूनियनों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर हड़ताल की है। इस हड़ताल में एसबीआई, पीएनबी और बैंक ऑफ बड़ौदा समेत ज्यादा तर सरकारी बैंक के कर्मचारी शामिल हैं। 

एसबीआई, पीएनबी व बैंक ऑफ बड़ौदा सहित ज्यादातर बैंकों ने प्रस्तावित हड़ताल के बारे में अपने ग्राहकों को पहले ही सूचित किया था और कहा था कि हड़ताल हुई तो उनकी शाखाओं व कार्यालयों में कामकाज प्रभावित होगा।

वहीं, मंगलवार को होने वाली बैंक कर्मचारियों की हड़ताल में यूनियन दो फाड़ हो गईं। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) की ओर से हड़ताल का एलान किए जाने के बाद दो यूनियन ने हड़ताल का बहिष्कार किया है। 

इन्होंने किया है बैंक हड़ताल के बहिष्कार का एलान

बहिष्कार करने वाली बैंक यूनियन में नेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स (एनओबीडब्ल्यू) और नेशनल आर्गेनाइजेशन ऑफ बैंक आफिसर्स (एनओबीओ) हैं। दोनों यूनियन की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कुछ बैंक यूनियनों ने 28 फरवरी 2017 को हड़ताल का आह्वान किया है, लेकिन हम इनमें शामिल नहीं हैं।

ऑल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन (एआईबीईए) के महासचिव सी एच वेंकटचलम ने कहा है कि 21 फरवरी को मुख्य श्रम आयुक्त के यहां हुई सुलह वार्ता विफल रही बैंक प्रबंधन की अगुवाई कर रहे इंडियन बैंक्स एसोसिएशन ने मांगों पर शर्तों पर सहमति नहीं जताई।

उन्होंने कहा कि यूनियनों की मांगों को कोई समाधान नहीं निकल रहा है इसलिए यूएफबीयू ने 28 फरवरी को हड़ताल पर जाने का फैसला किया है। उल्लेखनीय है कि देश में 27 सार्वजनिक बैंकों का कुल कारोबार में लगभग 75 प्रतिशत हिस्सा है।

इन्होंने किया है हड़ताल का एलान

यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) की ओर से हड़ताल का एलान किए जाने के बाद दो यूनियन ने हड़ताल का बहिष्कार किया है। इसमें एनओबीडब्ल्यू, एनओबीओ शामिल नहीं हैं। 

हड़ताल में शामिल नहीं होने वाले बैंकों ने कहा कि हम अपने सदस्यों से अपील करते हैं कि वह बैंकों में अधिक से अधिक काम करके ग्राहकों का काम करें। उन्हें किसी भी तरह की परेशानी नहीं आने दें। यह एक राजनैतिक हड़ताल है हम इसका समर्थन नहीं करते।

गौरतलब है कि यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) की अगुवाई में बैंक कर्मियों की यूनियनों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर हड़ताल पर जाने का एलान किया है।

खुले रहेंगे प्राइवेट बैंक

निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक तथा कोटक महिंद्रा बैंक में कामकाज सामान्य रहने की संभावना है। सिर्फ चेक समाशोधन का काम प्रभावित हो सकता है।

गौरतलब है कि यूएफबीयू नौ प्रमुख यूनियनों का शीर्ष संघ है, लेकिन भारतीय मजदूर संघ से सम्बद्ध नेशनल आर्गेनाइजेशन आफ बैंक वर्कर्स तथा नेशनल आर्गेनाइजेशन आफ बैंक आफिसर्स इस हड़ताल में भाग नहीं ले रहा।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस