नई दिल्ली [सुशील गंभीर]। Airhostess Geetika Sharma Suicide Case: एयरहोस्टेस गीतिका शर्मा की मां अनुराधा शर्मा की आत्महत्या के मामले में गोपाल कांडा के खिलाफ रोहिणी की ट्रायल कोर्ट से जारी समन पर सत्र अदालत ने राेक लगा दी है। कांडा हरियाणा के सिरसा से विधायक हैं। उन्होंने ट्रायल कोर्ट के फैसले को चुनाैती दी थी। कांडा के खिलाफ पिछले साल समन जारी हुआ था।

दिल्ली पुलिस ने अनुराधा शर्मा की आत्महत्या के मामले को बंद करने के लिए अदालत में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल की थी, लेकिन अदालत ने इस रिपोर्ट को नामंजूर करते हुए इस स्वत: संज्ञान लेकर कांडा और अन्य के खिलाफ समन जारी किया था। अदालत ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाते हुए कहा कि था इस मामले में तमाम साक्ष्यों को नजरअंदाज कर दिया गया। महत्वपूर्ण गवाहों के होते हुए भी मामले को बंद करने की सिफारिश अदालत से की गई। ये तमाम खामियां पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगाती हैं।

5 अगस्त 2012 को एयरहोस्टेस गीतिका शर्मा ने अशोक विहार स्थित अपने घर में आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में हरियाणा के तत्कालीन मंत्री गोपाल कांडा व उनकी सहायक अरुणा चड्डा को दुष्कर्म, गर्भपात व प्रताड़ना का आरोपित बनाया गया था। इसके ठीक छह माह बाद गीतिका की मां अनुराधा शर्मा ने भी आत्महत्या कर ली थी। उन्होंने सुसाइड नोट में गोपाल कांडा व अरुणा का नाम लिया था, जिसमें कहा गया था कि कांडा व चड्डा की तरफ से उन्हें धमकाया जा रहा है। पहले दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज किया, लेकिन जांच के बाद क्लोजर रिपोर्ट दायर की थी। पुलिस ने कहा था कि जब अनुराधा शर्मा ने आत्महत्या की थी, उस वक्त आरोपित न्यायिक हिरासत में थे। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस