नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब विधानसभा चुनाव के पहले महिलाओं के नाम संदेश में कहा है कि आम आदमी पार्टी ने जब से महिलाओं के लिए एक हजार रुपये देने की घोषणा की है तब से उन्हें काफी संख्या में महिलाओं के फोन कॉल का रहे हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी के इस वादे से पंजाब की महिलाओं में जहां खुशी है सभी उन्हें फोन कर इसके लिए धन्यवाद दे रहे हैं वहीं दूसरी पार्टी के लोग इसे मुद्दा बना रहे हैं। केजरीवाल ने कहा कि भाजपा, कांग्रेस और अकाली दल मुझे गाली देने में लगे हैं। बताया कि कांग्रेस, अकाली कह रहे हैं इस तरह तो पंजाब सरकार का खजाना खाली हो जाएगा। वहीं उन्होंने दावा किया कि पंजाब का खजाना इन विपक्षी पार्टियों ने मिलकर खाली किया।

गुरुद्वारा जाएं तो मेरे लिए मांग लें दुआ

अपने वीडियो संदेश में महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि आप जब भी गुरुद्वारा या मंदिर जाए तो मेरे लिए भी दुआ मांग लें। बता दें कि पंजाब चुनाव में आम आदमी पार्टी इस बार पूरी जोर आजमाइश कर रही है। इधर कांग्रेस अपनी गुटबाजी और अपने नए प्रदेश अध्यक्ष सिद्धू से ही परेशान चल रही है। पंजाब की सियायत के कैप्टन और कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को चुनाव से कुछ महीने पहले पार्टी छोड़नी पड़ी जिसके बाद से वह बगावती तेवर अपनाए हुए है। कैप्टन ने तो यहां तक कह दिया है कि वह सिद्धू को किसी हाल में सीएम नहीं बनने देंगे। उन्होंने अपनी राहें कांग्रेस से अलग कर नई पार्टी बना ली है।

दिल्ली की एक लाख बिजली बिल पंंजाब की सियायत में मचा रही तहलका 

इधर, केजरीवाल ने पंजाब के मोहाली में अपने हालिया चुनावी सभा में दिल्ली के एक लाख बिजली उपभोक्ताओं के जीरो बिजली बिल लेकर पहुंचे जिसकी चर्चा वहां की सियायत में खूब हो रही है। मोहाली में जब मंच पर इसे रखा गया तो यह फोटो मीडिया की सुर्खियों में भी छाया रहा। केजरीवाल ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को निशाने पर लेते हुए कहा कि वे केवल एक हजार बिजली के जीरो बिल दिखा दें।

Edited By: Prateek Kumar