नई दिल्ली [मनोज भट्ट]। दिल्ली मेरा दूसरा घर है। यहां मेरी बुआ रहती हैं। दिल्ली के लोग दिलदार हैं और मुझे बहुत पसंद हैं। दिल्ली वाले इमोशंस अपने चेहरे और जुबान पर लेकर घूमते हैं। यहां आकर मुझे सुकून मिलता है। यह बातें फिल्म अभिनेता अर्जुन कपूर ने ओखला स्थित रेडियो सिटी के स्टूडियो में दैनिक जागरण के साथ विशेष बातचीत में कहीं।

यहां रेडियो सिटी सुपर जूनियर सिंगर के प्रतियोगियों से मिलने आए फिल्म अभिनेता ने 28 जुलाई को रिलीज हो रही अपनी फिल्म मुबारकां के बारे में बताते हुए कहा कि यह एक पारिवारिक फिल्म है, जिसे लोग पूरे परिवार के साथ देख सकते हैं।

अर्जुन ने बताया कि फिल्म में वह करण और चरण नाम के भाइयों की दोहरी भूमिका निभा रहे हैं। फिल्म में चरण पगड़ी वाला सरदार है जो सरल आदमी है। जो जिंदगी अपने परिवार के साथ बिताना चाहता है। जबकि करण मोना सरदार है और कूल होने के साथ ओवर स्मार्ट भी है।

यह है मुबारकां

फिल्म में दोनों भाइयों की शादी तय हो जाती है, लेकिन दोनों के व्यवहार के हिसाब से लड़कियां गलत हैं। फिल्म में उनके चाचा बने अनिल कपूर इस शादी को सीधा करने की जुगत में लगे रहते हैं और फिल्म में यही पागलपन मुबारकां है।

अनिल कपूर की तारीफ

फिल्म के निर्देशक अनीस बज्मी और सहयोगी कलाकार अनिल कपूर की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इनके साथ काम करने में उन्हें विशेष चुनौती का सामना नहीं करना पड़ा, लेकिन जब आप जानते हैं कि आप अच्छे लोगों के साथ काम कर रहे हैं तो आपके अंदर एक बेकरारी रहती है। आप कितनी भी गलतियां करें, अच्छे लोग आपको गिरने नहीं देते।

सुपर जूनियर सिंगर एक बेहतरीन व नया कार्यक्रम है

रेडियो सिटी सुपर जूनियर सिंगर कार्यक्रम में प्रतियोगी बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए अर्जुन कपूर ने कहा कि यह सुपर जूनियर सिंगर एक बेहतरीन व नया कार्यक्रम है। जो नई प्रतिभाओं को अपना कौशल दिखाने का मंच प्रदान करता है। 

यह भी पढ़ें: चुनौती है यौन अंग की प्लास्टिक सर्जरी, भारतीय चिकित्सक दे रहे हैं जीवनदान

यह भी पढ़ें: कपिल मिश्रा को सरकारी आवास से गाय ले जाने के लिए क्या करना पड़ा, यहां पढ़ें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस