नई दिल्ली [गौतम मिश्रा]। इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर एक विमान में उस समय अजीब स्थिति उत्पन्न हो गई जब यात्रियों को चींटी नजर आने लगीं। विमान में चींटियों का झुंड कैसे दाखिल हुआ, इसे लेकर लोगों ने सवाल उठाने शुरू कर दिए। यात्रियों की शिकायत के बाद विमान को रोका गया। सभी यात्रियों को विमान से उतारने के बाद दूसरे विमान में बिठाया गया। इसके बाद में करीब ढाई घंटे की देरी के बाद विमान ने रनवे से उड़ान भरी। सूत्रों का कहना है कि इस विमान में भूटान के राजकुमार जिग्मे नामग्याल वांगचुक अपने स्वजन के साथ मौजूद थे। इस मामले में एयर इंडिया के प्रवक्ता का कहना है कि तकनीकी कारणों से विमान को बदला गया था। यात्रियों से जुड़ी कोई भी जानकारी प्रवक्ता ने नहीं दी।

जानकारी के मुताबिक यह एयर इंडिया का एआइ -111 विमान था। जिसे आइजीआइ के टर्मिनल 3 से लंदन के लिए उड़ान भरनी थी। विमान के उड़ान भरने से पहले कुछ यात्रियों को जैसे ही चींटी नजर आई, उन्होंने विमान में मौजूद क्रू मेंबर को यह बात बताई। मामला गंभीर नजर आने पर सभी यात्रियों को विमान से उतारा गया। इसके बाद विमान को टेक्निकल एरिया में ले जाकर पूरी जांच की गई। इस बीच यात्रियों को दूसरे विमान से लंदन के लिए रवाना किया गया। सूत्रों का कहना है कि भूटान के राजकुमार के विमान में होने के चलते एयरपोर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां सतर्क रहीं। विमान के आसपास सुरक्षाकर्मी तैनात रहे।

इसके पहले नजर आया था चमगादड़

इसके पहले भी एयर इंडिया के ही अमेरिका जा रहे विमान को तब आइजीआइ एयरपोर्ट पर लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा जब विमान में चमगादड़ ने आए। तब भी यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। एयरपोर्ट पर विमान की लैंडिंग के बाद वाइल्डलाइफ कर्मियों को बुलाया गया ताकि पूरे विमान में यदि कहीं भी चमगादड़ या उसके अवशेष नजर आए तो उसे हटाया जा सके।

Edited By: Prateek Kumar