नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में फरवरी, 2020 में हुए दंगों के दौरान दिल्ली पुलिस के जवान पर बंदूक तानने वाला आरोपित शाहरुख पठान एक बार फिर चर्चा में है। शाहरुख पठान का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें भीड़ उसका शानदार स्वागत कर रही है। इस दौरान हाथ हिलाकर लोगों के अभिवादन का जवाब भी दे रहा है। बताया जा रहा है कि दिल्ली दंगे का आरोपित शाहरुख पठान जेल से बाहर आया तो स्वागत के लिए उसके घर के बाहर भारी भीड़ जुट गई। 

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार, राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर और नागरिकता संशोधन कानून के विरोधी प्रदर्शनों के दौरान एक पुलिसकर्मी पर बंदूक तानने वाले आरोपी शाहरुख पठान का 23 मई को अपने आवास पर पहुंचने पर 4 घंटे की पैरोल के दौरान स्वागत किया गया। उसे अपने बीमार पिता से मिलने के लिए पैरोल मिली।

वीडियो देखकर सहज ही कहा जा सकता है कि शाहरुख पठान पुलिसकर्मियों के साथ कहीं जा रहा है और उसके आसपास भीड़ जमा है। यह वीडियो 23 मई 2022 का बताया जा रहा है।  उस दिन शाहरुख पठान को 4 घंटे की कस्टडी परोल पर रिहा किया गया था। शाहरुख पठान को यह पैरोल उसके बीमार पिता से मिलने के लिए मिली थी। अब उसे वापस जेल भेज दिया गया है, फिलहाल वह जेल में ही है। 

गौरतलब है कि 22 से 24 फरवरी के दौरान उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दंगे हुए थे। इस बीच सुरक्षा में जुटे दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल दीपक दहिया पर बंदूक तानने की शाहरुख पठान की तस्वीर इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुईं थी, जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था। 

बता दें कि मार्च महीने में दिल्ली की एक अदालत ने जाफराबाद इलाके में फायरिंग करने और दिल्ली पुलिस के जवान पर बंदूक तानने के आरोपित शाहरुख पठान  को अंतरिम जमानत देने से इनकार कर दिया था। कोर्ट में शाहरुख पठान ने अपने पिता की एंजियोग्राफी के आधार पर 20 दिन की अंतरिम जमानत मांगी थी। यह अलग बात है कि कोर्ट ने उसे अपने पिता की कोरोनरी एंजियोग्राफी में भाग लेने के लिए जीबी पंत अस्पताल ले जाने के लिए हिरासत में पैरोल दी थी। आरोपित को यह पैरोल 22 मार्च, 2022 को दी गई थी। 

Edited By: Jp Yadav