नई दिल्ली[संजीव गुप्ता]। दिल्ली में वैक्सीनेशन का आंकड़ा एक करोड़ के पार कर गया है। 26 लाख लोगों को दोनों डोज जबकि 74 लाख को पहली डोज लग गई है। यह जानकारी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को डिजिटल पत्रकार वार्ता में दी। उन्होंने इस उपलब्धि पर खुशी भी जताई कि दिल्ली में टीकाकरण के लिए पात्र 1.5 करोड़ की आबादी में से करीब 50 फीसद (74 लाख को) लोगों को पहला और 26 लाख को दोनों टीके लग चुके हैं। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में मोटे तौर पर दो करोड़ की जनसंख्या है, जिसमें से डेढ़ करोड़ लोग 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के यानी टीका लगवाने के लिए पात्र हैं।

डाक्टर, नर्से और कर्मचारी पूरी शिद्दत के साथ कर रहे काम

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में जितनी वैक्सीन मिल रही है, उसके हिसाब से हमारे डाक्टर, नर्से और टीका लगाने वाले कर्मचारी रात-दिन मेहनत करके पूरी शिद्दत के साथ काम कर रहे हैं। दिल्ली की जनता में भी टीका लगवाने को लेकर उत्साह है। केजरीवाल ने इन सब लोगों काे बधाई दी और उनका शुक्रिया अदा किया।

दिल्ली के पास तीन लाख टीके लगाने की क्षमता, नहीं मिल रहा वैक्सीन

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि वैक्सीन की कमी से टीकाकरण का लक्ष्य बढ़ नहीं पा रहा है। दिल्ली में अभी लगभग 50, 60, 70 हजार टीके प्रतिदिन लग रहे हैं। इतने कम टीके इस वजह से लग रहे हैं, क्योंकि दिल्ली में वैक्सीन की बहुत ज्यादा कमी है। अगर हमें वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में मिल जाए तो हम तीन लाख टीके प्रतिदिन लगाने की क्षमता रखते हैं। उन्होंने कहा कि वैक्सीन को लेकर हम लगातार केंद्र सरकार के संपर्क में हैं। उम्मीद है कि जल्द ही दिल्ली और देश के बाकी हिस्सों को भी पर्याप्त मात्रा में टीके मिलने चालू होंगे। जैसे-जैसे हमें टीके मिल रहे हैं, हम लगाते जा रहे हैं।

 

Edited By: Mangal Yadav