नई दिल्ली, जेएनएन।  नोएडा सेक्टर 16 मेट्रो स्टेशन पर शुक्रवार सुबह जस्ट डायल कंपनी की सेल्स मैनेजर शीतल श्रीवास्तव ने मेट्रो के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। वह पति के साथ सेक्टर 22 में रहती थीं। इस घटना के बाद मेट्रो सेवा करीब 15 मिनट तक बाधित रही। मौके पर पहुंची कोतवाली सेक्टर 20 पुलिस शव को कब्जे में लेकर कैलाश अस्पताल पहुंची और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला के परिजन ने किसी भी तरह की कार्रवाई करने से इऩकार किया है। महिला ने शुक्रवार सुबह करीब 10:40 बजे मेट्रो रेल के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली।

सेक्टर 16 मेट्रो स्टेशन से सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लिया। पास मिले आइ कार्ड से पहचान शीतल श्रीवास्तव के रूप में हुई। जांच में पता चला कि शीतल ने करीब दस बजे मेट्रो स्टेशन के अंदर प्रवेश किया था। वह दिल्ली जाने के लिए टोकन लेकर प्लेटफार्म पर आई थीं। वह कुछ देर तक प्लेटफॉर्म पर टहलती रहीं और अचानक बॉटेनिकल गार्डन की तरफ से आ रही मेट्रो ट्रेन के आगे कूद गईं। जांच में यह भी पता चला है कि महिला के पति देवेश पिछले एक साल से बेरोजगार हैं। वह नौकरी की तलाश कर रहे हैं और घर का खर्च शीतल के जिम्मे ही था। इसी बात को लेकर उनके बीच झगड़ा हुआ करता था। सुबह भी दोनों के बीच इस बात को लेकर विवाद हुआ था।

बहन के कॉल करने पर हुई आत्महत्या की जानकारी
दिल्ली की रहने वाली सोनिया श्रीवास्तव ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि उनकी बेटी शीतल श्रीवास्तव की शादी 10 फरवरी 2010 को देवेश श्रीवास्तव से हुई थी। शीतल पति और तीन साल की बेटी काव्या के साथ सेक्टर 22 में रहती थीं। वह जस्ट डॉयल कंपनी में सेल्स मैनेजर के पद पर तैनात थीं। जस्ट डॉयल में ही उनकी बहन कोमल श्रीवास्तव भी मैनेजर हैं। सुबह शीतल का पति से मामूली विवाद हुआ था। इसके बाद वह सुबह करीब नौ बजे घर से ड्यूटी के लिए निकलीं, लेकिन कंपनी नहीं पहुंचीं। इस पर उनकी बहन कोमल ने उनके मोबाइल पर कॉल की। यह कॉल किसी दूसरे व्यक्ति ने रिसीव की और उसी ने घटना के बारे में जानकारी दी।

दो टुकड़ों में बंट गया शरीर, परिजनों ने किसी भी तरह की कार्रवाई करने से किया इन्कार
राजबीर सिंह चौहान (प्रभारी इंस्पेक्टर, कोतवाली सेक्टर 20) ने बताया कि महिला ने पारिवारिक क्लेश के चलते मेट्रो ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या की है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। महिला के परिजन ने किसी भी तरह की कार्रवाई करने से इनकार कर दिया है।

यहां पर बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में 19 मार्च को अजब मामला सामने आया था, जब एक युवती 2000 रुपये का नोट उठाने के लिए मेट्रो ट्रैक पर ही उतर गई, जबकि मेट्रो ट्रेन आ ही रही थी। इस दौरान युवती के ऊपर से मेट्रो ट्रेन गुजर गई, लेकिन युवती सौभाग्य से बाल-बाल बची। यह सनसनीखेज वाकया द्वारका मोड़ मेट्रो स्टेशन पर हुआ था। इस युवती ने मेट्रो ट्रैक के बीच में लेट कर अपनी जान बचाई थी।

हुआ यूं कि द्वारका मोड़ मेट्रो स्टेशन पर मंगलवार सुबह 2000 रुपये का नोट उठाने के लिए ट्रेन को सामने से आते देखने के बावजूद द्वारका मोड़ मेट्रो स्टेशन पर 26 वर्षीय एक लड़की ट्रैक पर उतर गई। यह अलग बात है कि युवती इस दौरान मेट्रो ट्रेन के नीचे आने के बावजूद बाल-बाल बच गई। इस युवती का नाम चेतना शर्मा है।

माफी मांगने पर छोड़ा

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, युवती को तत्काल केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (Central Industrial Security Force) द्वारा हिरासत में लिया गया और लिखित माफी देने के बाद उसे छोड़ दिया गया। यात्रियों के मुताबिक, इस दौरान वह काफी डरी-सहमी थी।

दिल्ली-एनसीआर की महत्वपूर्ण खबरें पढ़ें यहां, बस एक क्लिक पर

Posted By: JP Yadav