नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से 30 अप्रैल को इजरायल जाने के लिए दिल्ली में ठहरे मणिपुर के 40 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। फ्लाइट पकड़ने के लिए आवश्यक नेगेटिव कोरोना जांच रिपोर्ट की प्रक्रिया पूरी करने के चलते 28 मई को इन लोगों ने दिल्ली में ही अपनी कोरोना जांच कराई। जांच में सभी 40 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। ये लोग करोलबाग के एक होटल में ठहरे हुए थे। इनमें सिर्फ तीन लोग ही हिंदी जानते हैं। बाकी सभी मणिपुरी भाषा ही बोलते हैं।

संक्रमितों में से एक सोइजेगिन मनलूंड ने बताया कि वे सभी लोग पहले भी इजरायल में रहते थे। कुछ साल पहले वह मणिपुर आए थे। अब वे इजराइल की नागरिकता लेकर वहीं रहना चाहते हैं। इसलिए 30 मई को फ्लाइट पकड़नी थी। यहूदी होने के कारण उन्हें इजरायल की नागरिकता आसानी से मिल जाएगी।

मनलूंड ने बताया कि संक्रमित पाए जाने के बाद उन्होंने नई दिल्ली जिला प्रशासन से संपर्क किया। इसके बाद एसडीएम ने सभी को गुरूद्वारा रकाबगंज स्थित कोविड केयर सेंटर भेज दिया। कोविड केयर सेंटर में सेवाएं दे रही संस्था इंटरनेशल ह्यूमन राइट्स आर्गनाइजेशन के चेयरमैन डा नेम सिंह प्रेमी ने बताया कि सेंटर में आने पर इन सभी के आक्सीजन लेवल आदि की जांच की गई। इसके बाद दो बच्चे जो दो साल से कम के थे, उन्हें लोकनायक अस्पताल रेफर कर दिया गया। साथ ही छह लोगों को कोई परेशानी न होने के कारण होम आइसोलेशन में रहने के लिए छुट्टी दे दी गई। वहीं, 12 महिलाएं पांच बच्चे और 15 लोग हमारे यहां अभी भर्ती हैं। इन सभी को हल्के लक्षण हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप