राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार अस्पतालों में बेड, वेंटिलेटर व आॅक्सीजन बेड की उपलब्धता की प्रतिदिन समीक्षा कर रही है। इसी क्रम में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि अस्पतालों में अब 17 हजार से ज्यादा बेड उपलब्ध हो गए हैं। बेड बढ़ाने का काम लगातार जारी है। अगले कुछ दिनों में बेड की संख्या और बढ़ जाएगी। इसके तहत अस्पतालों में करीब 1650 आइसीयू बेड बढ़ जाएंगे। इससे आइसीयू बेड की कमी दूर हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि अस्पतालों में कुल 17,292 बेड उपलब्ध है। जिसमें से करीब 7700 बेड खाली पड़े हैं। अस्पतालों में आइसीयू बेड की कमी के संदर्भ में उन्होंने कहा कि निजी अस्पतालों में करीब 250, दिल्ली सरकार के अस्पतालों में 650 व केंद्र सरकार के अस्पतालों में 750 बेड बढ़ाए जाएंगे। जिसमें से 400 से अधिक आइसीयू बेड पिछले चार दिनों में बढ़ाए जा चुके हैं। अगले तीन दिनों में अन्य आइसीयू बेड (करीब 1250) भी कोरोना के इलाज के लिए उपलब्ध हो जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि अस्पतालों में आइसीयू बेड की कमी बनी हुई है। इस वजह से अस्पतालों में मरीजों को बेड मिलने में परेशानी हो रही है। पिछले कुछ दिनों में कोरोना से मौतें बढ़ गई हैं। सत्येंद्र जैन ने कहा कि शवों के अंतिम संस्कार में आने वाली परेशानियों को लेकर तीनों नगर निगम से बात की गई है। निगम ने आश्वासन दिया है कि शवों के अंतिम संस्कार में परेशानी नहीं आएगी। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस