नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। रेल पटरियों के किनारे मच्छर न पनपे इसके लिए मच्छर मार ट्रेन चलाई गई है। डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया से बचाव के लिए प्रत्येक वर्ष रेल प्रशासन नगर निगम के सहयोग से विशेष मच्छर मार ट्रेन चलाकर पटरी के किनारे दवा का छिड़काव करती है। शुक्रवार से नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से यह ट्रेन शुरू की गई है। यह दो अक्टूबर तक दिल्ली के विभिन्न इलाके से होकर गुजरेगी।

दिल्ली नगर निगम का ट्रक से हो रहा छिड़काव

दिल्ली नगर निगम द्वारा एक ट्रक उपलब्ध कराया गया है जिसमें मच्छर मारने की दवा का छिड़काव करने वाला संयंत्र लगा हुआ है। इससे 50 से 60 मीटर की दूरी तक छिड़काव किया जा सकता है। दवा से भरे ट्रक को मालगाड़ी के खुले डिब्बे पर रखा गया है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर राजा इकबाल सिंह ने दिल्ली के मंडल रेल प्रबंधक डिंपी गर्ग की उपस्थिति में नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से इस विशेष ट्रेन को रवाना किया। मच्छर मार ट्रेन प्रत्येक फेरे में लगभग 75 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।

इन इलाकों के लोगों को मिलेगी सहूलियत

यह विशेष ट्रेन हजरत निजामुद्दीन, लाजपत नगर, सेवा नगर, लोधी कालोनी, दिल्ली सफदरजंग, बराड़ स्कवायर, इंद्रपुरी, मायापुरी, पटेल नगर, दयाबस्ती, दिल्ली किशनगंज, सदर बाजार, दिल्ली शाहदरा और नई दिल्ली तथा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अन्य इलाकों से होकर गुजरेगी। पांच सप्ताह में दस अलग-अलग रूट पर यह ट्रेन चलेगी। इस काम के लिए तैनात कर्मचारी कोरोना महामारी से बचाव संबंधित दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। रेल प्रशासन पानी की टंकियों की सफाई, टंकियों के क्षतिग्रस्त ढक्कन को बदलने के लिए भी अभियान शुरू किया है जिससे रेलवे स्टेशनों, कार्यालयों, अन्य कार्य स्थलों और रेलवे कालोनियों में मच्छर न पनप सके।

Edited By: Prateek Kumar