-एनजीएमए ने युवा कलाकारों ने ऑनलाइन ग्रीष्मकालीन कार्यशाला का किया आयोजन जागरण संवाददाता, नई दिल्ली :

गर्मी की छुट्टियों में युवा कलाकारों के लिए चित्रकला, मूर्तिकला, प्रिंट मेकिंग कला की बारीकियां सीखने का बेहतरीन अवसर है। राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय ने पहली बार ऑनलाइन ग्रीष्मकालीन कार्यशाला नैमिषा का आयोजन किया है। आठ जून से शुरू हुई कार्यशाला तीन जुलाई तक चलेगी। पदाधिकारियों की मानें तो अब तक 600 से ज्यादा प्रतिभागियों ने पंजीकरण कराया है।

कोरोना काल के दौरान, संग्रहालय और सांस्कृतिक संस्थान अधिक से अधिक दर्शकों तक पहुंच बढ़ाने के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। पिछले दो महीनों में एनजीएमए ने कई ऑनलाइन कार्यक्रम एवं प्रदर्शनियां आयोजित की है। इसी कड़ी में एनजीएमए अब अपने सबसे लोकप्रिय ग्रीष्मकालीन कला कार्यक्रम नैमिषा को डिजिटल रूप से आयोजित कर रहा है। राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय के महानिदेशक अद्वैत गड़नायक ने कहा, राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय (एनजीएमए) के पहले महानिदेशक के रूप में, मैं इस बात में दृढ़ता से विश्वास करता हूं कि संग्रहालयों को वर्चुअल रूप में आम लोगों के लिए सुलभ बनाया जाना चाहिए। समर आर्ट 2020, संग्रहालय और इसकी गतिविधियों के साथ समाज के सभी वर्गों को जोड़ने की दिशा में उठाया गया एक कदम है। महीने भर चलने वाला यह ऑनलाइन कार्यक्रम एनजीएमए, नई दिल्ली की एक पहल है, जिसके अंतर्गत प्रतिभागियों को कलाकारों के साथ अभ्यास करने और उनसे सीखने का अवसर प्राप्त होता है। अपने दर्शकों से वर्चुअल रूप में संपर्क बढ़ाने के लिए एनजीएमए द्वारा चार समावेशी कार्यशालाओं की योजना बनाई गई है। एक जून को इन कार्यशालाओं की घोषणा के बाद अब तक 600 से अधिक प्रतिभागियों के पंजीकरण प्राप्त हुए हैं। ऑनलाइन नैमिषा में चित्रकला कार्यशाला, मूर्तिकला कार्यशाला, प्रिटमेकिग और इन्द्रजाल-द मैजिक ऑफ आर्ट सिखाया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस