नई दिल्ली/इंदौर, जेएनएन। खुद को अविवाहित बताकर दिल्ली के मेजर से शादी करने वाली इंदौर के सीएसपी की पत्नी के खिलाफ पीड़ित मेजर ने पुलिस को बयान दर्ज करवा दिए हैं। उसने अधिकारियों से मुलाकात की और कहा कि साजिश में सीएसपी और उसकी दो बेटियां भी शामिल हैं। इस गिरोह ने अन्य लोगों को भी जाल में फंसाया है। दिल्ली निवासी मेजर अंकुर बुधवार को पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचे और एसएसपी से मुलाकात की। उन्होंने थाने में बयान भी दर्ज करवा दिए हैं।

अंकुर ने कहा कि सीएसपी की पत्नी ने खुद को अविवाहित बताया और सोशल मीडिया पर अकाउंट बना कर दोस्ती की। उसने आर्य समाज में शादी की और फर्जी अंकसूची से शादी का प्रमाणपत्र बनवा लिया। मेजर ने कहा कि महिला ब्लैकमेल करने की साजिश रच चुकी थी।

शारीरिक संबंध के बाद अंतर वस्त्र छिपा लेती थी महिला
वह शादी के बाद दिल्ली आई तो शारीरिक संबंध के बाद अंतर वस्त्र छुपा लेती थी। उसे पता था कि साजिश का पर्दाफाश होने पर दुष्कर्म के केस में फंसा सकती है। अंकुर के पिता सतीश सिंह के अनुसार, महिला ने पहले भी लोगों को फंसाया है। लेकिन, बदनामी के डर से कोई सामने नहीं आ रहा है।

मेजर ने कुटुंब न्यायालय में दर्ज कराए बयान

मेजर और सीएसपी की पत्नी के बीच चल रहे विवाद में कुटुम्ब न्यायालय गुरुवार को अंतिम बहस सुनेगी। इसके बाद तय होगा कि दोनों के बीच हुआ विवाह शून्य है या नहीं। और हनीमून पर खर्च हुए साढ़े सात लाख रुपये मेजर को वापस मिलेंगे या नहीं। मेजर ने बुधवार को कोर्ट में बयान दर्ज कराए। सीएसपी की पत्नी काउंसलिंग के लिए उपस्थित नहीं हुई। इस पर कोर्ट ने उसका सुनवाई का अवसर समाप्त कर दिया।

यह है मामला

फर्जी शादी का यह हाई प्रोफाइल ड्रामा 19 जनवरी को उस वक्त सामने आया था, जब दिल्ली निवासी मेजर अंकुर सिंह ने पुलिस में शिकायत की कि इंदौर में पदस्थ रहे एक सीएसपी की पत्नी और महिला एवं बाल विकास विभाग में परियोजना अधिकारी ने खुद को कुंवारी बताकर उसे प्रेमजाल में फंसाया। उसके साथ आर्य समाज में शादी कर ली। शिकायत में अंकुर सिंह ने यह भी कहा था कि सीएसपी की पत्नी से उसकी मुलाकात सोशल मीडिया पर हुई थी। उसने खुद की उम्र 24 साल बताई थी, जबकि वह 46 साल की है। महिला अधिकारी ने भी मेजर के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कराया था।

दिल्ली-एनसीआर की महत्वपूर्ण खबरें पढ़ें यहां, बस एक क्लिक पर

Posted By: JP Yadav