नई दिल्ली (जेएनएन)। देश की राजधानी दिल्ली में हेड कॉन्स्टेबल की सनसनीखेज हत्या का मामला सामने आया है। पूरी घटना मंंगलवार रात की है, जबकि पूरे मामले का खुलासा बुधवार सुबह हुआ। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली के अंबेडकरनगर थाने में तैनात हेड कॉन्स्टेबल राम अवतार मंगलवार को जैतपुर इलाके में अपने घर आए हुए थे।

घर से 50 मीटर की दूरी पर मंगलवार रात के वक्त उन पर हमला कर दिया गया। गोली लगने के बाद कांस्टेबल राम अवतार को नजदीक के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां पहुंचने से पहले ही उन्होंने दम तोड़ दिया। अस्पताल में डॉक्टरों ने राम अवतार को मृत घोषित कर दिया।

बताया जा रहा है कि घटना के दौरान वह किसी काम से बाजार जा रहे थे। हादसे की जानकारी पर घटना स्थल पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई है, हालांकि आशंका जताई जा रही है कि हत्या के पीछे आपसी रंजिश भी हो सकती है। 

जानकारी के मुताबिक, हेड कॉन्स्टेबल राम अवतार जैतपुर थाने के शक्ति विहार इलाके में परिवार के साथ रहते थे। परिवार वालों का कहना है कि राम अवतार मंगलवार को शाम के के दौरान बाजार से आटा लेने के लिए जा रहे थे, इसी दौरान उन्हें गोली मार दी गई।

यहां पर बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में किस कदर बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। इसकी तस्कीक करता है कि दिल्ली पुलिस पर भी हमले बढ़ गए हैं। मई, 2017 में बाहरी दिल्ली के मियांवाली इलाके में देर रात बाइक से आए बदमाशों ने कार सवार एक अन्य बदमाश को उसकी सुरक्षा में लगे दो पुलिसकर्मियों समेत गोलियों से भून डाला। फायरिंग में बदमाश, एक पुलिसकर्मी और एक अन्य समेत 3 लोगों की मौत हो गई थी।  इसके अलावा, मई 2018 में भी मादीपुर इलाके में देर रात गश्त पर निकले पंजाबी बाग थाना में तैनात पुलिसकर्मियों पर बदमाशों ने हमला कर दिया था। हमले में हेडकांस्टेबल नरेन्द्र घायल हो गए। 

पहले भी हुए हैं हमले

- 9 सितंबर 2017- पांडव नगर इलाके में कल्याण पुरी सर्कल में तैनात यातायात पुलिस के कांस्टेबल अजय और संजीव पर दो युवकों ने हमला कर दिया था। पुलिसकर्मियों ने वाहनों की जांच के दौरान दोनों को रोका था।

-14 जुलाई 2017-जाफराबाद इलाके में पीसीआर में तैनात दो एएसआइ पर बदमाशों ने हमला कर दिया था। दोनों को काफी चोटें पहुंची थी।

-13 अप्रैल 2017- गीता कॉलोनी इलाके में हत्या के मामले में जुड़े आरोपी को पकड़ने गई पुलिस टीम पर उसके रिश्तेदारों ने हमला कर दिया था। वीडियो बना रहे पुलिसकर्मियों का फोन भी लूट लिया था।

-2 नवंबर 2017- अमर कॉलोनी थाना क्षेत्र में हेडकांस्टेबल प्रदीप पर बदमाश ने हमला कर दिया था। पुलिसकर्मी झगड़ा होने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचा था।

-5 अक्टूबर 2017- रोहिणी नॉर्थ इलाके में कांस्टेबल उदयभावन व होम गार्ड राकेश पर हमला कर दिया गया।

 

Posted By: JP Yadav