राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली :

गंगाराम अस्पताल आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएम-जय) से जुड़ गया है। बृहस्पतिवार को केंद्र सरकार के केंद्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. दिनेश अरोड़ा व अस्पताल के अतिरिक्त चिकित्सा निदेशक डॉ. सतेंद्र कटोच ने समझौते पर हस्ताक्षर किया। इस तरह गंगाराम अस्पताल आयुष्मान भारत से जुड़ने वाला दिल्ली का पहला मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल है।

दिल्ली में अब तक निजी क्षेत्र के 13 अस्पताल इस योजना में पंजीकृत हो चुके हैं। इस योजना से जुड़ने वाला गंगाराम अस्पताल निजी क्षेत्र का पहला चिकित्सा संस्थान है जिसकी बेड क्षमता 700 है। इस अस्पताल की गिनती देश में निजी क्षेत्र के बड़े अस्पतालों में होती है, जहां दिल्ली के अलावा दूसरे राज्यों से भी लोग इलाज के लिए पहुंचते हैं। दिल्ली उन चुनिदा राज्यों में शामिल है, जहां आयुष्मान भारत योजना लागू नहीं है पर गंगाराम अस्पताल में इलाज के लिए पहुंचने वाले बाहर के गरीब मरीजों का निशुल्क इलाज हो सकेगा। इसके लिए मरीजों के पास आयुष्मान भारत का कार्ड होना अनिवार्य है। ऐसे मरीजों को सर्जरी व दवा के लिए कोई शुल्क भुगतान करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस योजना के तहत गरीब लोगों को पांच लाख रुपये तक के निशुल्क इलाज का प्रावधान है। इलाज का केंद्र सरकार (60 फीसद) व संबंधित राज्य सरकार (40 फीसद) मिलकर वहन करती हैं। दूसरी बात यह कि दिल्ली में सरकार से सस्ते दर में जमीन हासिल करने वाले अस्पतालों में ईडब्ल्यूएस (आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग) के मरीजों के निशुल्क इलाज के लिए 10 फीसद बेड आरक्षित हैं। गंगाराम में दोनों योजनाएं एक साथ चलेंगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021