जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली : लंबे अरसे बाद पूर्वी दिल्ली नगर निगम स्थायी समिति की बैठक हुई, लेकिन इसमें आयुक्त समेत कई अधिकारी नदारद रहे। ऐसी स्थिति देखकर चेयरमैन बिफर गए और महज पांच मिनट बाद ही बैठक स्थगित कर दी।

बृहस्पतिवार को जब स्थायी समिति की बैठक शुरू हुई तो न केवल आयुक्त डॉ. रणबीर ¨सह, बल्कि अतिरिक्त आयुक्त प्रथम जीएल मीणा और अतिरिक्त आयुक्त द्वितीय आरएस मीणा तक अनुपस्थित थे। इनकी गैरमौजूदगी में मुख्य लेखापाल व वित्तीय सलाहकार बृजेश ¨सह आयुक्त की जगह पर बैठ गए। यह देखकर स्थायी समिति चेयरमैन प्रवेश शर्मा बिफर पड़े और बैठक से अधिकारियों की गैरहाजिरी को गंभीर मसला बताया। साथ ही जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की जिम्मेदारी का भी अहसास कराया।

वहीं, भाजपा पार्षद सत्यपाल ¨सह ने कहा कि अधिकारी तो पार्षदों को भी एक कर्मचारी मानते हैं। ऐसे में हम क्षेत्र में कैसे काम कर सकते हैं। अधिकारी सिर्फ गरीब आदमी के ऊपर कार्रवाई करते हैं। अमीरों पर उनका कोई बस नहीं चलता है। निगम पार्षद कंचन माहेश्वरी भी अधिकारियों के रवैये को गलत बताया।

By Jagran