जागरण संवाददाता,नई दिल्ली

डीयू में भले ही छात्रों ने ऑनलाइन आवेदन व फीस का भुगतान किया हो लेकिन अब भी लगभग एक हजार विद्यार्थी ऐसे हैं जिनकी फीस डीयू नहीं लौटा पाया है। आवेदन फीस, नामांकन रद करने की फीस और कॉलेज स्थानांतरण में फीस के अंतर के तौर पर डीयू के पास छात्रों के कई लाख रुपये बकाया हैं। कई छात्र इस बाबत डीयू के वरिष्ठ अधिकारियों से मिलकर अपनी अर्जी लगा चुके हैं।

पूर्व में डीयू ने तीन तरह की सूची जारी कर जिन छात्रों की फीस बाकी थी उनका नाम जारी किया था और छात्रों से अपने अकाउंट की डिटेल भी भेजने की बात कही थी।

डीयू के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि कई छात्रों की फीस लौटाई जा चुकी है। अब भी लगभग एक हजार छात्र ऐसे हैं जिनकी फीस कई कारणों से नहीं लौटाई गई है। लेकिन हमारी कोशिश है कि इन छात्रों की भी फीस जल्द ही लौटा दी जाए।

क्या आ रही है परेशानी

अक्टूबर में डीयू की तरफ से जारी सूची में लगभग 13 हजार छात्र थे जिनकी फीस बाकी थी। दिसंबर की सूची के अनुसार अभी एक हजार

छात्र बाकी हैं, जिनकी फीस वापस नहीं की गई है। छात्रों का 1 रुपये से लेकर 10 हजार से अधिक का शुल्क बाकी है। डीयू का कहना है कि छात्रों द्वारा खाते की जानकारी अपडेट ने करने के कारण उनकी फीस लौटानी बाकी है। दूसरी तरफ डीयू ने दो कॉलेजों के बीच फीस के अंतर अभी छात्रों को नहीं बताया गया है। ऐसे छात्रों की संख्या लगभग पांच सौ बताई जा रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी वे कहा कि कुछ बैंकों का आपस में विलय होने के कारण व आइएफएससी कोड बदलने से भी यह दिक्कत आई है। हमारी कोशिश है कि पैसा सही छात्रों के मिले।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप