नई दिल्ली [स्वदेश कुमार]। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी को दिल्ली पुलिस ने उनके घर पर ही हिरासत में ले लिया है। अनिल चौधरी पर आरोप है कि उन्होंने अपने वाहनों से लोगों को दिल्ली-यूपी गेट पर पहुंचाया और यहां भीड़ जुटा दी। हालांकि अनिल चौधरी ने आरोपों को नकार दिया है। उनका कहना है कि कांग्रेस के कार्यकर्ता लोगों की सिर्फ सेवा कर रहे हैं। उन्हें खाना खिला रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक न्यू अशोक नगर थाने की टीम रविवार सुबह दल्लुपुरा स्थित अनिल चौधरी के घर पर पहुंच गई और उन्हें बाहर निकलने से मना कर दिया। अनिल चौधरी का कहना है कि उन्हें कोई कारण नहीं बताया गया। हालांकि दिल्ली पुलिस की तरफ से कहा गया है कि उन्होंने लोगों को दिल्ली-यूपी गेट पर पहुंचाया। इस दौरान प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया। शारीरिक दूरी और मास्क पहनने के नियम का भी उल्लंघन किया गया।

 

उधर, हिरासत में लिए जाने की सूचना पर कांग्रेस के स्थानीय कार्यकर्ता अनिल चौधरी के घर पर पहुंचने शुरू हो गए हैं। अनिल चौधरी का कहना है कि लोगों को खाना खिलाना गुनाह है तो वह उन्होंने किया। प्रसव पीड़ा से गुजर रही एक महिला को अपने वाहन से अस्पताल पहुंचाया, जहां उन्होंने एक बच्चे को जन्म दिया। अगर ये अपराध है तो उन्होंने यह भी किया है।

अनिल चौधरी के खिलाफ हो सकती है कानूनी कार्रवाई

पुलिस का कहना है कि प्रवासी मजदूरों को उनके गांव भेजने का एक सिस्टम है जिसे फॉलो नहीं किया जा रहा है। पुलिस ने बताया कि अनिल चौधरी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने पर भी विचार किया जा रहा है। पुलिस का आरोप है कि प्रवासी मजदूरों को अनिल चौधरी ने दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर पहुंचाया। इस दौरान लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं किया गया। 

बता दें कि रविवार को दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर प्रवासी मजदूरों की भारी भीड़ जुट गई। इस दौरान लॉकडाउन के नियमों की धज्जियां भी उड़ाई गई। गाजीपुर में बॉर्डर पर पहुंचे मजदूरों का कहना है कि वह अपने-अपने गांव जाना चाहते हैं। 

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में बनाया आश्रय केंद्र

उधर, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के कार्यालय राजीव भवन में अस्थायी आश्रय केंद्र बनाया गया है। इसमें 50 लोगों के रहने की व्यवस्था की गई है। दिल्ली से घर लौटने की कोशिश कर रहे मजदूरों को इसमें रखा जाएगा। उन्हें घर भेजने के लिए टिकट की व्यवस्था भी कांग्रेस करेगी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने शनिवार को कहा कि आश्रय केंद्र में शारीरिक दूरी का ख्याल रखा जाएगा। लोगों को यहां निशुल्क भोजन व मास्क दिया जाएगा और सैनिटाइजेशन की भी व्यवस्था होगी। इन लोगों को घर भेजने तक यहां पूरा ख्याल रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली की सीमाओं का कांग्रेस नेताओं ने दौरा किया। कांग्रेस कार्यकर्ता पैदल घर लौट रहे लोगों की हर संभव मदद कर रहे हैं।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस