नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दक्षिण दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स अस्पताल के चिकित्सक ने घरेलू कलह से तंग आकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या से पहले चिकित्सक ने अपने होने वाले बच्चे के नाम से एक वीडियो संदेश पत्नी को भेजा। घटना शुक्रवार देर रात की है। मालवीय नगर थाना पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि डॉ. विवेक गोरखपुर के रहने वाले थे और परिवार के इकलौते बेटे थे। छह महीने पहले उनकी शादी हुई थी और पत्नी दो महीने की गर्भवती है। शुक्रवार देर रात करीब 11.30 बजे पुलिस को मामले की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और उनके घर से फंदे से लटके हुए शव को कब्जे में लिया।

सॉरी मेरे बच्चे.. तुझे देख नहीं पाऊंगा

पुलिस की जांच में सामने आया है कि 30 अप्रैल की देर रात डॉ. विवेक ने अपने मोबाइल में 11 मिनट 19 सेकंड का वीडियो बनाया था। वीडियो बनाने के बाद डॉ. विवेक ने उस वीडियो को पत्नी को भेजा। पत्नी को वीडियो भेजने के बाद डॉ. विवेक ने आत्महत्या की। वीडियो में डॉ. विवेक ने पत्नी से बात करते हुए कहा है 'कोकिला मुझे नहीं पता, तुम मुझसे क्या उम्मीद रखती हो। मैं उलझकर रह गया हूं। तुम अक्सर कहती हो कि मां के घर में खुश हूं। तुम्हारी मां कहती है कि यहां फोन क्यों करते हो। क्या मेरा हक नहीं है कि मैं फोन कर अपनी पत्नी से हालचाल पूछ सकूं। मैंने तुम्हें कब प्यार नहीं किया, तुम्हारे लिए अपनी मासूम सी बहन को डांटा-मारा। मैं खुश होना चाहता था। मगर तुमने तो मेरी उस खुशी को भी तार-तार कर दिया। सॉरी मेरे बच्चे, तुझे देख नहीं पाऊंगा। मगर तेरा बाप कायर नहीं था, उसे हालात ने मारा।' वीडियो भेजने के बाद छत की कुंडी से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

Edited By: Jp Yadav