नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। श्रद्धा वालकर हत्याकांंड के खुलासे के एक पखवाड़े के बाद देश की राजधानी दिल्ली में एक और दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके में पत्नी पूनम ने अपने बेटे दीपक के साथ मिलकर पति अंजन दास की हत्या कर दी। इसके बाद रिश्ते और मनुष्यता दोनों को तार-तार करते हुए अंजन दास के शरीर के कई टुकड़े किए फिर एक-एक कर नजदीक नाले में और रामलीला ग्राउंड में फेंक दिए।

मई के अंतिम सप्ताह में हुए अंजन दास हत्या कांड का खुलासा 6 महीने के बाद दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने किया है। इसमें पत्नी पूनम और बेटे दीपक की गिरफ्तारी हुई है। क्या इसमें और लोगों ने भी मदद की? इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस जुटा रही है।  

1. 30 मई की रात हुई थी हत्या

पूछताछ में खुलासा हुआ है कि अंजन दास की हत्या पूनम ने बेटे दीपक के साथ 30 मई की रात को की। इसके बाद पूरी रात शव को कमरे रखा, ताकि सारा खून निकल जाए। अगले दिन चाकू से शव के टुकड़े किए और फिर प्लास्टिक की थैलियों में शव के टुकड़े भरे। इसके बाद एक-एक कर 10 टुकड़ों को जगह-जगह फेंका

2. अवैध संबंध बना हत्या की वजह

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक,  अंजन दास आशिक मिजाज किस्म का शख्स था। उसके कई औरतों से संबंध थे। वह अक्सर कई-कई रात घर नहीं लौटता था। इतना ही वहीं, वह अक्सर औरतों को घर पर भी लेकर आ जाता था। इस दौरान पत्नी पूनम और बेटा दीपक टोकता तो अंजन दास हिंसक व्यवहार पर उतर आता था। अंजन दास के औरतों से अवैध संबंध को विरोध करने पर कई बार उसने पत्नी पूनम और सौतेले बेटे दीपक को पीटा भी था। अंजन दास के अवैध संबंधों की वजह से पूनम बहुत परेशान रहती थी। पति की हरकतों को लेकर कई बार पत्नी पूनम ने बेटे दीपक के साथ चर्चा की थी। अंजन की हरकतों की वजह से दोनों हत्याकांड की पूरी साजिश रची और मई, 2022 के अंतिम सप्ताह में अंजाम दिया।  

3. दीपक की पत्नी पर भी नजर रखता था अंजन

अंजन दास दरअसल, अपने सौतेले बेटे दीपक की पत्नी पर भी बुरी नजर रखता था। कई बार खुलेआम अंजन ने दीपक की पत्नी से शारीरिक रिश्ते बनाने की बात कही थी। इसके बाद दीपक ने भी पिता अंजान दास से खुलेआम नाराजगी जताई थी। बावजूद अंजन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था। इसके बाद ही पूनम ने अपने बेटे दीपक के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची। बताया जा रहा है कि अंजन की वजह से पत्नी पूनम और बेटे दीपक के साथ उसकी पत्नी की भी जिंदगी नर्क से बदतर हो गई थी। 

4. श्रद्धा हत्याकांड की तरह ठिकाने लगाए शव के टुकड़े

यह महज संयोग है कि पूर्वी दिल्ली का अंजन दास हत्याकांड और दक्षिण दिल्ली का श्रद्धा हत्याकांड मई, 2022 में अंजाम दिया था। दोनों में कई समानताएं हैं। श्रद्धा हत्याकांड के आरोपित आफताब अमीन पूनावाला की तरह ही पूनम और दीपक ने पहले तो अंजन दास की हत्या की फिर उसके शरीर के कई टुकड़े किए। इसके बाद शरीर के टुकड़ों को रात के समय फेंकते थे। हैरत की बात यह है कि दीपक और पूनम ने बिल्कुल श्रद्धा हत्या की तरह ही शव को रात को ही ठिकाने लगाए। इसी तरह हत्या के बाद श्रद्धा हत्याकांड के आरोपित आफताब की तरह ही पूनम और दीपक ने अंजन दास के शरीर के भी कई टुकड़े किए। इसके बाद बोरी में भर कर जगह-जगह फेंका।

5. पहले खिलाई नशे की दवा फिर चाकुओं से किए ताबड़तोड़ वार

पूनम और दीपक ने अंजन दास की बड़ी बेरहमी से हत्या की। पूरी साजिश के तहत दोनों ने पहले तो अंजन दास को नशे की दवाई दी फिर चाकुओं से हमलाकर मौत की नींद सुला दिया। दीपक और पूनम दोनों ही अंजन दास से बहुत नफरत करते थे, इसलिए चाकुओं के ताबड़तोड़ तब तक करते रहे जब तक उन्हें यकीन नहीं हो गया कि वह मर चुका है। कुल मिलाकर अवैध संबंधों की वजह से इस हत्या को अंजाम दिया गया था। 

6. पत्नी से कराता चाहता था देह व्यापार

यह भी जानकारी सामने आई है कि अंजन दास अपनी पत्नी को भी देह व्यापार के धंधे धकेलने की कोशिश करता था। इसको लेकर भी पूनम से कई बार लड़ाई हो चुकी थी। अंजन दास कुछ खास काम धंधा नहीं करता था। वह शराब पीने का भी आदी थी और औरतों से रिश्त बनाने की आदत ने उसे हैवान बना दिया था। यही वजह है कि वह रिश्तों की मर्यादा भूल गया और अपनी बहू यानी दीप के बेटे पर भी नजर रखने लगा। 

7. पूनम ने की थी 5 शादी

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक, पूनम ने कुल पांच शादियों की थी, जिनमें से कुछ ही मौत हो चुकी है तो कुछ से तलाक हो चुका है। दीपक उसके पति कल्लू का बेटा है, जो उसके साथ रहता था।  

Edited By: Jp Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट