नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण को देखते हुए दिल्ली विश्वविद्यालय की ओर से अपनी आनलाइन कक्षाएं भी 16 मई तक के लिए स्थगित कर दी गई है। अब 16 मई को इन कक्षाओं को फिर से चलाने पर विचार किया जाएगा। फिलहाल राजधानी में कोरोना संक्रमण के मामलों में किसी तरह से कमी होती नहीं दिख रही है इसको ध्यान में रखते हुए कुलसचिव की ओर से ये निर्णय लिया गया है।

कोरोना संक्रमण की वजह से दिल्ली विश्वविद्यालय के 650 से अधिक शिक्षक, गैर शिक्षक कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। डीयू शिक्षक संघ के अध्यक्ष राजिब रे ने बताया कि डीयू के कालेजों, विभागों में बड़ी संख्या में शिक्षक संक्रमित हो रहे हैं। 35 से अधिक शिक्षक, गैर शिक्षण कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। सर्वाधिक प्रभावित कालेजों में शिवाजी कालेज शामिल है। यहां इस समय करीब पचास शिक्षक कोरोना संक्रमित है।

इससे पहले, 19 अप्रैल को कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली यूनिवर्सिटी को 7 दिनों के लिए बंद करने का फैसला किया गया था। 19 अप्रैल को हुई एक मीटिंग के बाद यह निर्णय लिया गया था। दिल्ली सरकार के आदेश के अनुसार, 26 अप्रैल को सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लगाया गया था, इसे ध्यान में रखते हुए डीयू ने निर्णय लिया है कि अगले सात दिनों तक यूनिवर्सिटी में किसी तरह की पब्लिंग डीलिंग नहीं होगी। यह आदेश मंगलवार से लागू होगा। इस दौरान सिर्फ आनलाइन मोड में कक्षाएं चलाने की अनुमति दी गई थी।

इस दौरान कक्षाओं का संचालन सिर्फ ऑनलाइन मोड में किया जाएगा। शिक्षकों और शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को घर से कार्य करने के आदेश दिए गए। वहीं, कर्मचारियों को टेलीफोन पर उपलब्ध रहने के लिए निर्देशित किया गया है। दिल्ली विश्वविद्यालय को 3 मई, 2021 तक बंद करने का निर्णय लिया गया था। कोविड-19 के बढ़ते मामले को देखते हुए यूनिवर्सिटी ने दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) के निर्देशों को ध्यान में रख कर यह फैसला किया है। डीडीएमए ने महामारी को रोकने के लिए दिल्ली में चल रहे कर्फ्यू को एक सप्ताह के लिए, यानी 3 मई तक बढ़ा दिया था, अब आनलाइन कक्षाएं भी 16 मई तक बंद कर दी गई है।

शिक्षक संस्थानों में कोरोना संक्रमण

  • जामिया में एक महीने के भीतर प्रोफेसर, सहायक कुलसचिव समेत 11 कर्मियों का निधन।
  • जामिया कुलपति ने कहा-अधिकतर लोगों की मौत कोरोना से।
  • जामिया ने आवासीय कोचिंग परिसर अगले आदेश तक बंद किया।
  • जेएनयू में कोरोना के मामले चार सौ के पास पहुंचे।
  • जेएनयू परिसर में 29 अप्रैल से 1 मई तक टीकाकरण होगा।
  • जेएनयू शिक्षक फोरम ने मांग की है कि एक महीने तक आनलाइन कक्षाएं ना चलें।
  • जेएनयू शिक्षकों ने कैंपस में आइसोलेशन सेंटर बनाने की गुजारिश की है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021