नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने झुग्गी बस्तियों में रह रहे परिवारों के लिए ‘जहां झुग्गी, वहीं मकान’ योजना के तहत बनाए जा रहे फ्लैट्स के कार्य प्रगति की समीक्षा बैठक की। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने अधिकारियों को ‘जहां झुग्गी, वहीं मकान’ योजना के तहत तैयार हो चुके फ्लैट्स के आवंटन में तेजी लाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना में आ रहीं किसी भी तरह की दिक्कतों को मेरे संज्ञान में लाया जाए, ताकि उसे दूर कर झुग्गी बस्तियों में रह रहे परिवारों को जल्द फ्लैट में शिफ्ट किया जा सके और वे सम्मान के साथ जिंदगी जी सकें। समीक्षा बैठक में कैबिनेट मंत्री सत्येंद्र जैन, डुसिब और डीएसआईआईडीसी के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

Indian Railway News: राजस्थान, हरियाणा, गुजरात, यूपी, पंजाब और‍ एमपी के लिए स्पेशल ट्रेनों की हुई घोषणा, देखें रूट और समय

मीटिंग के दौरान डुबिस अधिकारियों ने सीएम को अवगत कराया कि वह 18,084 फ्लैट का निर्माण कर रहा है। यह सभी फ्लैट लगभग तैयार हैं। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि डीएसआईआईडीसी द्वारा 34,260 फ्लैट बनाए जा रहे हैं। इसमें से 17,660 फ्लैट बन कर तैयार हैं, जबकि 16,600 फ्लैट निर्माणाधीन हैं।

इसके अलावा, अधिकारियों ने अवगत कराया कि 4833 फ्लैट झुग्गी बस्तियों में रह रहे बेघर परिवारों में आवंटित किए जा चुके हैं, जबकि 7031 फ्लैट्स के आवंटन की प्रक्रिया चल रही है और जल्द ही आवंटित कर दिए जाएंगे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि योजना में आ रही दिक्कतों को उनके संज्ञान में लाया जाए, ताकि उन दिक्कतों को दूर किया जा सके और बेघरों को वहां पर फ्लैट देकर शिफ्ट किया जा सके।

Farmers Protest : पंजाब से मिला दिल्ली पुलिस को सबसे बड़ा चैलेंज, लक्खा सिधाना बोला- आ रहा हूं कुंडली बॉर्डर

बेघर परिवारों के लिए तीन चरणों में बनाए जा रहे फ्लैट

उल्लेखनीय है कि ‘जहां झुग्गी, वहीं मकान’ योजना के तहत झुग्गी बस्तियों में रह रहे बेघर परिवारों के लिए तीन चरणों में 89,400 फ्लैट्स बनाए जाने हैं। दिल्ली के विभिन्न इलाकों में यह फ्लैट करीब 237 एकड़ भूमि में बनाए जाएंगे। दिल्ली सरकार पहले चरण में 52,344 फ्लैट् बनवा रही है और यह फ्लैट्स 2022 तक बना कर आवंटित कर दिए जाएंगे, जबकि दूसरे चरण में करीब 18 हजार फ्लैट बनाए जाने हैं।

Lockdown Night Curfew In Delhi & NCR: जानिये- एनसीआर के सभी शहरों का हाल, कहां लगा नाइट कर्फ्यू और कहां लगी धारा-144

इन दोनों चरणों में बनाए गए फ्लैट्स में बेघर परिवारों को शिफ्ट करने के बाद जो जमीन खाली होगी, उस पर तीसरे चरण के तहत शेष फ्लैट बनाए जाने हैं। तीनों चरण का कार्य 2025 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

ये भी पढ़ेंः हमारी लड़ाई कोरोना से है, केंद्र सरकार से नहीं, इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिएः सत्येंद्र जैन

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021