नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का आज जन्मदिन है। अपने बर्थडे के दिन केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस वार्ता कर अपने जीवन के बारे में एक खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि मेरे जीवन का एक ही सपना है। बता दें कि केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने भारत में काफी कम समय में दो राज्यों में सरकार चला रही है। वहीं यह क्षेत्रीय पार्टी की तमगे को त्याग कर जल्द ही राष्ट्रीय बनने की कगार पर है। आइए जानते हैं प्रशासनिक सेवा के बाद राजनीति में पर्दापण करने वाले और शख्स के दिल की चाहत क्या है।

बने सबसे शक्तिशाली देश

सीएम केजरीवाल ने कहा कि मेरी जिंदगी का एक ही सपना है। मैं अपने जीते-जी भारत को दुनिया का नंबर वन देश देखना चाहता हूं। भारत को दुनिया का सबसे शक्तिशाली और सर्वश्रेष्ठ देश देखना चाहता हूं। हम सब लोग चाहते हैं कि भारत एक अमीर देशों में गिना जाए। भारत अमीर कैसे बनेगा? उन्होंने बताया कि भारत अमीर तब बनेगा, जब हर भारतवासी अमीर बनेगा। ऐसा तो नहीं हो सकता है कि भारत अमीर देश बन गया और भारत के लोग गरीब रह गए। फिर तो भारत अमीर देश नहीं हो सकता है और ऐसा भी नहीं हो सकता है कि सारे भारतवासी अमीर हो जाएं और भारत गरीब देशों में गिना जाए। यह भी नहीं हो सकता है। भारत को अमीर देश बनाने के लिए हर भारतवासी को अमीर बनाना पड़ेगा। मैं हर गरीब आदमी को अमीर बनाना चाहता हूं। मुझे अमीरों से कोई परहेज नहीं है, लेकिन मैं हर गरीब को अमीर बनाना चाहता हूं।

सरकारी स्कूल का हर बच्चा बने डॉक्टर-इंजीनियर

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि गरीब आदमी अमीर कैसे बनेंगे? आप एक कल्पना कीजिए कि एक गरीब किसान, एक गरीब मजदूर है, एक गरीब कारपेंटर, प्लंबर, इलेक्ट्रिशियल है, वो अपने बच्चे को एक सरकारी स्कूल में भेजता है। इधर, सरकारी स्कूल की हालत बहुत खराब है। उसमें पढ़ाई होती नहीं है। कोई इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं है। दीवारें टूटी हुई हैं, छतें टपक रही हैं। ऐसी हालत में तो वह बच्चा कुछ पढ़ेगा तो है नहीं और बड़ा होकर उसको छोटे-मोटे काम करने पड़ेंगे। गरीब का बच्चा गरीब ही रह जाएगा। वहीं, अगर हम सरकारी स्कूलों को बहुत अच्छा कर देते हैं, स्कूल में पढ़ाई बहुत अच्छी कर देते हैं। इससे एक किसान, मजदूर, रिक्शेवाले, लोअर मीडिल क्लास या मीडिल क्लास का बच्चा अगर उस सरकारी स्कूल में जाता है, तो वहां से निकलकर वो बच्चा एक डॉक्टर, इंजीनियर बनता है। अच्छा बिजनेस करता है, फिर वो अपने परिवार की गरीबी दूर करेगा और उसका परिवार अमीर बन जाएगा।

सीएम ने दिया उदाहरण

सीएम अरविंद केजरीवाल ने उदाहरण देते हुए कहा कि छात्र कुशाल गर्ग के पिताजी एक प्लंबर हैं और वो 10-12 हजार रुपए महीना कमाते हैं। कुशाल का अब ऑल इंडिया मेडिकल के अंदर एडमिशन हो गया है। उसके पिताजी 10-12 हजार रुपए कमाते हैं, लेकिन अब वो पढ़ाई पूरी करने के बाद जब डॉक्टर बनेगा, तो शुरू में ही वो कम से कम तीन-चार लाख रुपए महीना कमाएगा, तो उसका परिवार अमीर हो जाएगा।

Edited By: Prateek Kumar